Press "Enter" to skip to content

शिवमहापुराण ही व्यक्ति के उद्धार का सरल साधन है: कथा व्यास

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुज़फ्फरनगर-

जनपद के गांव अजमतगढ़ में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर आयोजित शिवमहापुराण कथा में कथा व्यास परम पूज्य संजीव शंकर जी महाराज ने कथा सुनाकर श्रृद्धालुओं का मार्गदर्शन किया। संजीव शंकर जी ने कहा कि कलयुग में शिव पुराण ही व्यक्ति के उद्धार का सरल साधन है। आदिकाल से भगवान शिव की पूजा विशेष प्रशंसनीय है परंतु कलिकाल में शिव नाम अपने आप में पूर्ण नाम है। जिसका स्मरण करने मात्र से व्यक्ति भवसागर से पार हो जाता है।

संजीव शंकर जी महाराज ने कहा कि श्रवण, कीर्तन और मनन ये तीनों भगवत प्राप्ति के सरल साधन है। वही यह तीनों साधनों के उपलब्ध ना होने की स्थिति में शिवलिंग पूजा विशेष महत्वपूर्ण है। उत्तानपाद की कथा सुनाते हुए कथा व्यास ने कहा एक छोटे से आठ ईंटों का शिवालय और पार्थिव शिवलिंग की पूजा से श्रीकृष्ण के गुरु जैसे पद प्राप्त करना भगवान शिव की कृपा से ही संभव हुआ।

इस अवसर पर मुख्य रूप से एस.डी. इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रधानाचार्य एसएन चौहान, वरिष्ठ समाजसेवी कीर्तिवर्धन, होली चाइल्ड पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य प्रवेन्द्र दहिया, ग्राम नरा प्रधान वीरेन्द्र सैनी, दिवाकर सैनी, पंकज दीवान, प्रवेश धीमान, ब्रजवीर सैनी, रामकुमार सैनी, केसर धीमान, संजीव सैनी एवं अजमतगढ़ युवा संगठन में शिव मंदिर समिति के सभी सदस्य उपस्थित रहे। इस अवसर पर दिवाकर सैनी ने सपत्नि उपस्थित होकर पूजन संपन्न कराया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.

Be First to Comment

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Mission News Theme by Compete Themes.