Press "Enter" to skip to content

कल अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस : नारी शक्ति पुरस्‍कार 2017 प्रदान करेंगे राष्‍ट्रपति

नयी दिल्ली।

राष्‍ट्रपति  रामनाथ कोविंद कल अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर राष्‍ट्रपति भवन, नई दिल्‍ली में आयोजित होने वाले विशेष समारोह में नारी शक्ति पुरस्‍कार 2017 प्रदान करेंगे। भारत सरकार महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में योगदान करने के लिए प्रख्‍यात महिलाओं और संस्‍थानों को नारी शक्ति पुरस्‍कार से सम्‍मानित करती है। इस वर्ष इनके लिए 30 व्‍यक्तिगत तथा 09 संस्‍थागत पुरस्‍कार विजेताओं का चयन किया गया है

महिला और बाल विकास मंत्रालय प्रख्‍यात महिलाओं, संगठनों और संस्‍थानों के लिए इन राष्‍ट्रीय स्‍तर के पुरस्‍कारों की घोषणा करता है। चयन समिति संगठनों और व्‍यक्तियों की उपलब्धियों पर विचार-विमर्श कर पुरस्‍कारों के लिए विजेताओं को नामित और उनकी सिफारिश करती है। पुरस्‍कार प्राप्‍त करने वालों का चयन करने में संबंधित क्षेत्रों में उनके असाधारण योगदान पर प्राथमिकता से विचार किया जाता है। पुरस्‍कारों के लिए आवेदन आमंत्रित करने के लिए भारत सरकार का महिला और बाल विकास मंत्रालय देशभर के समाचार पत्रों में विज्ञापन छपवाता है तथा सोशल मीडिया के जरिए इस बारे में जानकारी दी जाती है। मंत्रालय सभी राज्‍य सरकारों, केंद्र शासित प्रदेश प्रशासनों, केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों को भी इसकी सूचना देता है।

इन पुरस्‍कारों के लिए कोई भी संस्‍थान, संगठन और व्‍यक्ति आवेदन भेज सकते हैं। पुरस्‍कार की पात्रता के लिए आवेदनकर्ता की सिफारिश केंद्र सरकारों, केंद्र शासित प्रदेश प्रशासनों, केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों, गैर सरकारी संगठनों, विश्‍वविद्यालयों/संस्‍थानों, महिला सशक्तिकरण के लिए कार्यरत निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों द्वारा किया जाना आवश्‍यक है। मंत्रालय में महिलाएं स्‍वयं या आम जनता में से किसी के द्वारा भी नामित की जा सकती है। इन पुरस्‍कारों की शुरूआत 1999 में हुई थी।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति का संदेश

राष्ट्रपति  रामनाथ कोविंद ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर सभी महिलाओं को शुभकामनाएं दी हैं। अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस प्रत्‍येक वर्ष 8 मार्च का मनाया जाता है। राष्‍ट्रपति ने अपने संदेश में कहा “अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर, मैं सभी महिलाओं को शुभकामनाएं देता हूं।यह दिन जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं के व्‍यक्‍तिगत या पेशेवर स्‍तर पर किए गए योगदान को पहचान देने और सम्‍मानित करने का अवसर है। भारतीय महिलाओं ने अक्‍सर बडी चुनौतियों के बीच अपने प्रयासों से सराहनीय सफलता हासिल की है। वे अपने परिवारों के साथ ही हमारे समाज और राष्ट्र के लिए प्रेरणा का स्रोत हैं।“ उन्‍होंने कहा, “ इस अवसर पर, आइए हम सब मि‍लकर एक ऐसे समाज के निर्माण में योगदान करें जहां महिलाओं को अपनी पूरी क्षमता का एहसास हो सके और राष्ट्र के विकास में वह अपना उत्‍कृष्‍ट योगदान दे सकें। हम सबको एक ऐसे भविष्य के निमार्ण में सलंग्‍न होना चाहिए जहां हर भारतीय महिला को समान अवसर और समान व्‍यवहार के रूप में वह सब मि‍ले जिसकी वह हकदार है।“ राष्ट्रपति ने कहा “मैं अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की सफलता की कामना करता हूं।“

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.