Press "Enter" to skip to content

अरहर की दाल के संग बाफले का जवाब नहीं । जानिए रेसिपी।

दाल के संग बाफले

ठंड के मौसम में मालवा के दाल-बाफले का जवाब नहीं। आसानी से पका कर आनंद लिया जा सकता है। गेहूं के आटे में थोडा मक्के का आटा और बेसन मिलाइए। हल्दी, आजवाइन, हल्का-सा नमक और मोयन के लिए थोडा धी मिलाकर आटा गूंथ लीजिए। गुंथा आटा थोडा सख्त रहेगा। उसके बाद आटे की लोइयां बना कर भाप में पका लीजिए। भाप में पकाने के बाद ओवन की मदद से गैस चूल्हे पर सेंक लें। इस तरह आपके बाफले तैयार हो जाएंगे।

बाफले के साथ अरहर की मसालेदार दाल का जोड है। दाल थोडा गाढी होनी चाहिए जिसे पकाते समय थोडा खटाई जरूर डालें। पकने के बाद प्याज, लहसुन, हरी मिर्च, अदरख, टमाटर का तडका लगाए। दाल के साथ बैंगन का भुरता तैयार कर सकें तो सोने में सुहागा। भुरता न बनाए तो भी हरी धनिया, लहसुन, हरी मिर्च और अमचुर डाल कर चटपटी चटनी बना लें। इस तरह आप मालवा के मशहूर व्यंजन दाल-बाफले का चटनी संग जायका लें।

More from सेहत जायकाMore posts in सेहत जायका »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.