Press "Enter" to skip to content

कांग्रेस का घोषणापत्र झूठे वादों का दस्तावेजः भाजपा

नई दिल्ली।
कांग्रेस के घोषणापत्र को झूठे वादों का दस्तावेज करार देते हुए भाजपा ने शनिवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस ने झूठे वादे किये और उन्हें बार बार दोहराया लेकिन उन वादों को कभी पूरा नहीं किया।
भाजपा नेता एवं केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘झूठे वादे और झूठी बातें करके देश की जनता को अब गुमराह नही किया जा सकता है, देश की जनता समझदार है, और वह कांग्रेस के झूठे वादों को नकारती है।’’ उन्होंने जोर दिया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार ने पूरी अर्थव्यवस्था को संभाला और फ्रेजाइल फाइव से देश को छठी अर्थव्यवस्था बनाया। उन्होंने जोर दिया कि ब्याज की दर आज निम्नतम स्तर पर है और पिछ्ले 40 -50 वर्षों में महंगाई की दर यदि किसी 5 वर्ष के अंतराल में सबसे कम रही है तो वह अब है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए गोयल ने कहा कि कांग्रेस ने 2004 और 2009 में किसानों को प्रत्यक्ष नकद अंतरण की बात की, लेकिन 10 वर्ष सरकार चलाने के बाद भी कुछ नही किया जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने 6,000 रुपया प्रति वर्ष किसानों को देने का निर्णय लिया और उसकी शुरुआत भी कर दी। भाजपा नेता ने जोर दिया कि कांग्रेस ने 2004 और 2009 के घोषणापत्र में वादा किया था कि हर घर में बिजली पहुंचायेंगे, जब भाजपा सरकार आयी तो 18,000 गांवों में बिजली नही थी, हमारी सरकार ने 5 वर्षों में यह काम पूरा किया और हर घर तक बिजली पहुंचाने का काम भी किया।
पीयूष गोयल ने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को आरक्षण देने का वादा कांग्रेस द्वारा अपने घोषणपत्र में 2004 और 2009 में किया गया था, लेकिन उन्होंने कभी इसे लागू नहीं किया और इसकी चिंता नहीं की जबकि भाजपा की सरकार ने 10 प्रतिशत आरक्षण देने का ऐतिहासिक काम किया। उन्होंने जोर दिया कि हर घोषणा पत्र में कांग्रेस लिखती है कि वह भ्रष्टाचार पर प्रहार करेगी, लेकिन उनके भ्रष्टाचार पर प्रहार का आलम ऐसा रहा है कि उसके बाद उन्होंने 2जी घोटाला, कोयला घोटाला, अगस्टा वेस्टलैंड घोटाला जैसे अनेकों घोटाले किये जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने 5 साल तक देश की बेदाग सेवा की। गोयल ने कहा कि वर्ष 2009 में ब्रॉडबैंड के संदर्भ में कांग्रेस ने कहा था कि वह 3 साल में सभी गांवों को ब्रॉडबैंड से जोड़ देगी, लेकिन 2014 तक सिर्फ 59 गांवों तक ही ब्रॉडबैंड पहुंचा जबकि हमने एक लाख बीस हजार से अधिक गांवों तक ब्रॉडबैंड पहुंचाया।

More from खबरMore posts in खबर »
More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.