Press "Enter" to skip to content

चार धाम यात्रा मार्ग को लेकर एनजीटी ने थमाया नोटिस

देहरादून।

उत्तराखंड में निर्माणाधीन चार धाम यात्रा मार्ग की महत्वाकांक्षी परियोजना से पर्यावरण को नुकसान की आशंका के मद्देनजर नेशनल ग्रीन ट्रब्यूनल ने उत्तराखंड राज्य सरकार के साथ ही केंद्र सरकार को नोटिस भेज कर 12 मार्च तक स्पष्टीकरण देने को कहा है। गौरतलब है कि अॉल बेदर रूट नाम से बन रहे चार धाम यात्रा मार्ग की आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रखी थी। इस महत्वाकांक्षी यात्रा मार्ग के 356 किमी दायरे में पडने वाले लगभग 25 हजार पेड काटे जाने हैं।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि इस यात्रा मार्ग से जहां एक ओर देश भर से उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों व श्रद्वालुओं को भारी सुविधा होगी, वहीं राज्य के विकास को भी गति मिलेगी। विकास कार्य के लिए पेड काटना मजबूरी है। भरपाई के लिए पूरे यात्रा मार्ग पर वृहत वृक्षारोपण की भी कार्ययोजना बनाई गयी है और इसके मद्देनजर केंद्र सरकार ने समुचित बजट का भी प्रावधान किया है। प्रवक्ता ने कहा कि उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा एनजीटी की नोटिस पर समुचित स्पष्टीकरण दे दिया जाएगा।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.