Press "Enter" to skip to content

नोएडा: नौंवी कक्षा की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान, टीचरों पर प्रताड़ित करने का आरोप

नोएडा ।

नोएडा में एक 16 साल की नौंवी कक्षा की छात्रा ने रेलिंग से फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। छात्रा इकिशा प्रसिद्ध कथक डांसर बिरजू महाराज के शिष्य राघव शाह की बेटी थी। इकिशा ने सोमवार को घर में लोहे की रेलिंग से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। हालांकि पिता ने बेटी की खुदकुशी के लिए उसके दो टीचरों को जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस ने दोनों आरोपी शिक्षकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 और 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। आगे की कार्रवाई जारी है।

रिश्तेदार मोहित शुक्ल ने बताया है कि राघव शाह का परिवार सेक्टर-52, डी-80 में रहता है। सोमवार शाम 5 बजे परिजनों ने इकिशा को रेलिंग से लटका पाया। इसके बाद उसे उतारकर निजी अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों का कहना है कि मौत की सही वजह पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही सामने आ पाएगी।
पिछले दिनों हुई परीक्षा के दौरान दो विषय में छात्रा की कंपार्टमेंट आ गई थी जिससे वह काफी परेशान थी। वहीं, पिता राघव का आरोप है कि परीक्षा में कम नंबर आने से शिक्षक भी उसे प्रताड़ित कर रहे थे। राघव का कहना है कि बच्ची ने उन्हें बताया था कि एसएसटी के टीचर उसे गलत तरीके से छूते थे। मैंने उससे कहा चूंकि मैं भी एक टीचर हूं एक टीचर ऐसा नहीं कर सकता, यह उसकी गलतफहमी होगी। लेकिन इकिशा ने कहा कि वह उनसे डरती है और चाहे मैं कितना भी अच्छा कर लूं वो मुझे फेल ही कर देंगे।
छात्रा दिल्ली मयूर विहार के एल्कॉन पब्लिक स्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ती थी। पिता ने स्कूल के शिक्षकों पर बेटी को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। सेक्टर-24 पुलिस मामले की जांच कर रही है।
छात्रा काफी तनाव में थी। परिजनों से ज्यादा बात भी नहीं करती थी और घर से निकलना बंद कर दिया था। तनाव में उनकी बेटी ने आत्महत्या कर ली है। वहीं एसपी सिटी नोएडा अरुण के सिंह ने जानकारी दी है कि बच्ची के पिता ने स्कूल दो टीचरों पर बच्ची को प्रताड़ित करने और जानबूझ कर फेल करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने दोनों आरोपी शिक्षकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 और 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। आगे की कार्रवाई जारी है। हमारे अधिकारी  स्कूल का भी दौरा करेंगे।
वहीं स्कूल के प्रिंसिपल का कहना है कि यह एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। स्कूल सीबीएसई की प्रमोशन पॉलिसी फॉलो करता रहा है। मैं बता दूं कि वह फेल नहीं हुई थी, एक री-टेस्ट होने वाला था। हम पुलिस की जांच में उसकी सहायता करेंगे।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.