Press "Enter" to skip to content

बिजनौर में जहरीली मिठाई खाने से दो सगी बहनों की मौत, 2 की हालत गंभीर

बिजनौर |

यूपी के बिजनौर में मंगला मुखी की दी मिठाई खाने से दो सगी बहनों की मौत हो गई, जबकि एक बहन व उसकी भाभी गंभीर रूप से बीमार हो गई। बीमार महिला व किशोरी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मिठाई में जहर देकर जान से मारने की रिपोर्ट दर्ज कर दो मंगलामुखी को गिरफ्तार किया है।

किरतपुर के मोहल्ला अहमदखेल निवासी अतीक का नगीना में रहने वाला भाई लियाकत मंगलामुखी है। बढ़ापुर के रहने वाली मंगलामुखी शबनम व लियाकत में इलाके के बंटवारे को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। कुछ दिन पहले दोनों में समझौता हो गया। दोनों आपस में बातचीत करने लगे।

लियाकत के भाई अतीक के परिजनों के मुताबिक मंगलामुखी शबनम ने लियाकत को एक मिठाई का डिब्बा दिया था। लियाकत ने मिठाई का डिब्बा अपने भतीजे अतीक के पुत्र वकील को दे दिया था। शनिवार रात अतीक की तीन पुत्री 20 साल की रिजवाना, 18 साल की गुलफ्ता, 16 साल की अफसा व अतीक बहू शाहना ने मिठाई खा ली। मिठाई खाने के बाद परिजनों की हालत बिगड़ गई। सभी को पेट में तेेज दर्द के साथ उल्टी दस्त शुरू हो गए। गुलफ्ता ने थोड़ी देर बाद ही दम तोड़ दिया।

इससे परिजनों के हाथ-पांव फूल गए। परिजन बाकी को जिला अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने रिजवाना की हालत गंभीर देखते हुए मेरठ रेफर कर दिया। मेरठ में उपचार के दौरान रिजवाना की मौत हो गई।

वहीं लियाकत ने मंगलामुखी शबनम और उसके साथियों के खिलाफ जहर देकर मारने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने शबनम और उसके एक साथी राजकुमारी को गिरफ्तार कर लिया है। उधर, किरतपुर थाना प्रभारी निरीक्षक मुकेश कुमार के मुताबिक पूरे मामले की गहराई से जांच की जा रही है। मंगलामुखी के दो गुटों में विवाद की बात सामने आ रही है। इस मामले में कार्रवाई की जा रही है  ।

 

असल बात ब्यूरो

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.