Press "Enter" to skip to content

बिजनौर में हुलियारों पर लाठी भांजी, झांसी में तोडफोड और बागपत में फायरिंग

लखनऊ ।

होली के दिन रंग खेलने के दौरान कुछ स्थानों पर छिटपुट टकराव व हिंसा की खबरें मिली हैं। बिजनौर में पुलिस ने लाठी भांजी जबकि झांसी में संघ स्वयंसेवकों से टकराव के बाद तोडफोड होने की सूचना मिली है। जुमे के दिन नमाजियों पर रंग गिरने के डर से अलीगढ में एक मस्जिद को कपडे से ढके जाने की खबर मिली है।
झांसी में रंग के दौरान पुलिस और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यकर्ताओं के बीच झडप के बाद तोडफोड की घटना प्रकाश में आई है। संघ और हिंदू संगठनों ने थाने पर हंगामा किया। आरोप है कि थानाध्यक्ष ने संघ को लेकर आपत्तिजनक शब्द कहे जिससे लोग भडक गये। बाद में पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने घटनास्थल पहुंच कर मामला शांत कराया। अधिकारियों ने थानाध्यक्ष सदर बाजार को निलंबित कर दिया है।
बिजनौर जिले के धामपुर में होली के परंपरागत जुलूस के दौरान पुलिस को हालात नियंत्रित करने को हुलियारों पर ही लाठी भांजनी पडी। लाठीचार्ज से गुस्साए हुलियारों ने जुलूस बीच में ही रोक दिया और संबंधित पुलिसकर्मियों के विरूद्घ कार्रवाई की मांग की है।
बागपत के बिनौली में मोटरसाइकिल सवार लोगों ने होलिहारों पर फायरिंग की जिसमें दो लोग घायल हो गये। दोनों घायल सगे भाई बताए जा रहे हैं। पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। आगरा के शमशाबाद चौराहे पर रंग खेलने के दौरान दो पक्ष भिड गये। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर हालात पर काबू पाया।
शामली जिले के कांधला थानाक्षेत्र के डूंडूखेडा गांव में रंग के दौरान शराब पीने को लेकर हुई कहासुनी में कश्यप और बाल्मीकि समाज के लोग भिड गये। दोनों पक्षों के बीच हुई मारपीट में 18 लोग घायल हुए है। फतेहपुर जिले में भी फाग गाने के दौरान दो पक्षों के बीच मारपीट की खबर है। अलीगढ में जुमे की नमाज के दौरान नमाजियों पर रंग गिरने के डर से शहर में पहली बार अब्दुल करीम चौराहे पर स्थित एक मसजिद को पूरी तरह से कपडे से ढक दिया गया था। इसे लेकर शहर में चर्चा रही। हालांकि शहर मुफ्ती खालिद हमीद ने कहा कि बीते बरस भी मसजिद को ढका गया था।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.