Press "Enter" to skip to content

बेटिकट यात्रा करने वालों की खैर नहीं। पकड़े जाने पर तीन गुना देना होगा जुर्माना

नई दिल्ली

ट्रेन में बिना टिकट के सफर करने वाले यात्रियों को अब सावधान होने की जरुरत है। पश्चिमी रेलवे ने बिना टिकट के यात्रियों से वसूले जाने वाला जुर्माना तीन गुना बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है। बिना टिकट की रेल यात्रा पर जुर्माना बढ़ाकर अब 1,000 रुपए किया जा सकता है।

मौजूदा समय में टिकट के बिना प्रथम और द्वितीय श्रेणी के रेल डब्बों में यात्रा करने वालों से 250 रुपए का जुर्माना वसूला जाता है। इससे पहले जुर्माने की रकम महज 50 रुपए थी जिसे साल 2002 में बढ़ाकर 250 रुपए किया गया था। पश्चिमी रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हंगाई के मुताबिक जुर्माने की रकम भी बढ़नी चाहिए। रेलवे के अनुसार रोजाना यात्रा करने वाले कई यात्री यह सोचकर टिकट नहीं लेते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि पकड़े जाने के बाद जुर्माना भरना मंथली सीजन टिकट लेने के मुकाबले सस्ता है। सेंट्रल रेलवे में रोजाना करीब 3,000 जबकि पश्चिमी रेलवे में करीब 1,300 बेटिकट यात्री पकड़ाते हैं। ऐसे में सेंट्रल रेलवे को जुर्माने से हर रोज 15 लाख रुपए जबकि वेस्टर्न रेलवे को 5 लाख रुपए की आमदनी होती है। वहीं, सेंट्रल रेलवे किराए से हर दिन 7 करोड़ रुपए जबकि वेस्टर्न रेलवे 5 करोड़ रुपए कमाता है।

More from खबरMore posts in खबर »
More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.