Press "Enter" to skip to content

माफिया डॉन अबु सलेम ने अपनी पुश्तैनी जमीन बचाने को पुलिस से लगाई गुहार

आजमगढ।

कहते हैं सयय बहुत बलवान होता है। कल तक जिस माफिया डॉन से लोग थर्राते थे, आज उसी को अपनी पुश्तैनी जमीन बचाने को पुलिस से गुहार लगानी पड रही है।

अबु सलेम ने जेल से आजमगढ के सरायमीर थाना पुलिस को पत्र लिख कर पुलिस से मामले में हस्तक्षेप कर न्याय  की मांग की है। उल्लेखनीय है कि माफिया डान अबु सलेम पुत्र अब्दुल क्यूम जो इन दिनों पुर्तगाल से प्रत्यपर्ण के बाद तलोजा सेन्ट्रल जेल खारघर नवी मुम्बई में बंद है,  उसने जेल से लिखे अपने शिकायती प्रार्थना पत्र में उल्लेख किया है कि उसकी पुश्तैनी गांव की जमीन आराजी सं 738/02 क्षेत्रफल 160 है।जमीन जो उसके और भाईयों के नाम नकल खतौनी मेें दर्ज है। नकल खतौनी की प्रति दिनांक 30 मार्च 2013 को परिवार वालो ने लिया था। उस समय मेरा व मेरे भाईयों का नाम दर्ज था लेकिन जब अभी हाल में परिवार के लोगों ने दूसरी नकल निकाली तो पता चला कि उक्त भू खंड आराजी पर मोहम्मद नफीस, मोम्मद शौकत , सरवरी, मोहिउददीन, एखलाख, एखलाख व नदीम अख्तर का नाम दर्ज हो गया।

सालेम ने आरोप लगाया है कि उक्त लोग जालसाजी कर हडपना चाहते हैं।पत्र में उन्होने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। गौरतबल है कि सरायमीर बाजार में स्थित उक्त जमीन पर माल का निर्माण चल रहा है। शिकायती पत्र मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लिया और दोनो पक्षों को बुलाकर पडताल की। इस मामले में दूसरा पक्ष जिसका वर्तमान समय में नाम दर्ज है उनका कहना है कि उनके द्वारा उक्त जमीन को बैनाम वेश 2002 में लिया गया है। इस प्रकरण के सामने आने से सरायमीरक्षेत्र में सरगर्मी तेज है।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.