Press "Enter" to skip to content

लक्ष्मीकांत वाजपेयी को मिल सकती है उच्च सदन की सदस्यता

 लखनऊ।

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी को संसद या प्रदेश विधानमंडल के उच्च सदन का सदस्य बना कर पार्टी उन्हें समायोजित कर सकती है। गौरतलब है कि बीते बरस हुए विधानसभा चुनाव में प्रचंड भाजपा लहर के बावजूद वाजपेयी मेरठ महानगर की अपनी परंपरागत विधानसभा सीट से पराजित हो गए थे।

भाजपा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पार्टी अपने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी को राज्यसभा या प्रदेश में विधानपरिषद का सदस्य बना कर उन्हें समायोजित करने का मन बना चुकी है। भाजपा नेतृत्व को ज्ञात है कि मेरठ महानगर के विशिष्ट सांप्रदायिक समीकरण के चलते ही वाजपेयी को हार का मुंह देखना पडा था। वाजपेयी के पक्ष में सबसे अनुकूल स्थिति यह है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह निजी तौर पर उनकी सक्रियता से परिचित हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव के समय वाजपेयी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष थे और तब उन्होंने शाह के निर्देशन में प्रदेश भर में चुनाव अभियान का सफल संचालन किया था। पार्टी सूत्रों का कहना है कि वाजपेयी यदि विधानपरिषद सदस्य बनाए जाते हैं तो उन्हें योगी मंत्रिमंडल विस्तार में कैबिनेट में भी जगह मिल सकती है।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.