Press "Enter" to skip to content

सर्जिकल स्ट्राइक के वीडियो पर शुरु हुई सियासी जंग, कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया वोट बटोरने का आरोप

नयी दिल्ली

कांग्रेस ने प्रधानमंत्री कार्यालय पर रणनीति के तहत सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी करने का आरोप लगाया। कांग्रेस ने कहा कि भाजपा सरकार सर्जिकल स्ट्राइक की परंपरा और परिपार्टी को तोड़कर इसका राजनीतिक और चुनावी फायदा लेने का प्रयास कर रही है।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आज कहा कि मोदी सरकार ‘जय जवान जय किसान‘ के नारे का राजनीतिक इस्तेमाल कर रही है और सर्जिकल स्ट्राइक की वीर गाथा के सहारे वोट पाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा सेना की इस कार्रवाई का चुनावी फायदा लेने की घोषणा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पहले ही कर दिया था। भाजपा का यह प्रयास शर्मनाक है और परंपरा को तोड़ने वाला है। उन्होंने कहा कि भाजपा को याद रखना चाहिए कि सैनिकों के बलिदान का राजनीतिक लाभ नहीं लिया जाना चाहिए लेकिन वह लगातार ऐसा करने का प्रयास कर रही है और इस क्रम में उसने उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान प्रेस कान्फेस, विज्ञापनों, पोस्टरों और होर्डिग्स के जरिये सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय सेना के बजाय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा को दिया।

सुरजेवाला ने सेना के गौरवशाली इतिहास का उल्लेख करते हुए कहा कि भारतीय सेना ने अपने अदम्य साहस, पराक्रम और बलिदान की भावना से देश को सदा गौरवान्वित किया है। 1947, 1961-62, 1965, 1971 और 1999 के युद्ध में भारतीय सेना की बहादुरी व कुर्बानी की गाथा आज भी जन-जन की जुबान पर है। कांग्रेस नेता ने कहा कि हमारी बहादुर सेना ने पिछले दो दशकों में अनेकों बार सफलतापूर्वक ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की हैं, खास तौर से साल 2000 के बाद- 21 जनवरी, 2000 (नडाला एंक्लेव, नीलम नदी के पार)य 18 सितंबर, 2003 (बारोह सेक्टर, पुंछ), 19 जून, 2008 (भट्टल सेक्टर, पुंछ), 30 अगस्त-1 सितंबर, 2011 (शारदा सेक्टर, केल में नीलम नदी घाटी), 6 जनवरी, 2013 (सावन पत्र चेकपोस्ट), 27-28 जुलाई, 2013 (नाजापीर सेक्टर), 6 अगस्त, 2013 (नीलम घाटी) को सेना ने कार्रवाई की थी।

More from खबरMore posts in खबर »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.