Press "Enter" to skip to content

विधानसभा में बोले CM योगी- मैं हिंदू हूं, ईद नहीं मनाता और इसका मुझे गर्व !

लखनऊ ।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को यूपी विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर संबोधन दिया। उन्होंने कहा कि 11 महीने में एक भी सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ है। होली और जुमा (शुक्रवार) एक ही दिन पड़ा तो हमने जुमे को दो घंटे आगे बढ़ा दिया, और कहा कि पहले होली मनाए।

यूपी सीएम योगी ने कहा कि हमने सभी पुलिस लाइन और थानों में हमने जन्माष्टमी मनाना शुरू किया. उन्होंने कहा कि जब एक पत्रकार ने हमसे पूछा कि आपने दीवाली अयोध्या और होली मथुरा में मनाई तो ईद कहां मनाएंगे। योगी बोले कि मैंने साफ कहा कि मैं हिंदू हूं, ईद नहीं मनाता और इसका मुझे गर्व है, लेकिन शांतिपूर्वक ईद मनाने के लिए सरकार सदैव काम करती रहेगी। योगी ने कहा कि घर मे जनेऊ पहनकर बैठेंगे और बाहर निकलेंगे टोपी लगा लेंगे।

समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए सीएम ने कहा कि सपा को अपनी तोड़क नीति अपने पार्टी तक ही सीमित रखनी चाहिए, प्रदेश और देश को तोड़ने का प्रयास किया जाएगा तो दंडकारी नीति से निपटेंगे। इस दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। हंगामे के दौरान योगी ने कहा कि इस पार्टी के समाजवाद से सबसे ज्यादा राम मनोहर लोहिया की आत्मा आहत हो रही होगी. समाजवादी पार्टी और बसपा के गठबंधन पर निशाना साधते हुए सीएम ने कहा कि अब इनकी पार्टी ‘बहुजन समाजवादी पार्टी’ बन गई है।

राज्यपाल के अभिभाषण पर जवाब देते हुए योगी ने अपनी पार्टी की उपलब्धि भी गिनवाई। उन्होंने विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा ने अब नागालैंड, त्रिपुरा और मेघालय में सरकार भाजपा ने बनाई है, कांग्रेस की ओर संबोधित करके कहा वह लोग हमें सीखा रहे है जबकि आपका खाता भी नहीं खुला है।

सपा पर निशाना साधते हुए योगी ने कहा कि 2016-17 अखिलेश सरकार ने एक भी गरीब को घर नहीं दिया, लेकिन हमारी सरकार ने पिछले 11 महीनों में 8 लाख 85 हजार मकान गरीबों को दिए हैं।

अपने संबोधन में योगी ने सरकार की उपलब्धियों को गिनवाया. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने 65 लाख बिजली कनेक्शन दिया, 34 लाख शौचालय उपलब्ध कराए. हाल ही में हुए निवेश समिट के बारे में उन्होंने कहा कि 4 लाख 67 हजार के निवेश का प्रस्ताव आया है, अगर सपा-बसपा की दोनों सरकार को मिला दिया जाए फिर भी इतना नहीं आया होगा।

कई सारी योजनाओं पर सपा सरकार ने रोक लगा दी थी क्योंकि लेनदेन नहीं हो पाया था। उन्होंने कहा कि राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान जिस तरह का दृश्य दिखा वह अत्यंत अशोभनीय था। यह दृश्य राजनीतिक दलों का चेहरा प्रदर्शित करता है, जो लोकतंत्र का ढोंग तो करते हैं लेकिन चेहरा कुछ और है।

योगी ने कहा कि एक झूठ को 100 बार बोलने सच नहीं होगा, 100 बार झूठ बोलने से 16 मार्च को घटना हुई थी. उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष ने सच स्वीकार न करने की कसम खाई है। अगर सपा ने प्रदेश में किसानों के बारे में युवाओं के बारे में कुछ किया होता तो आपको विपक्ष में नहीं बैठना पड़ता, अगला चुनाव आते-आते वहां की भी स्थिति नहीं रहेगी।

अपने संबोधन में योगी ने कहा कि हमारी सरकार आने के बाद प्रदेश की तस्वीर बदली है, जबकि सपा की सरकार में राजनीति का अपराधीकरण किया गया, सीएम आवास पर बुलाकर अपराधियों को सम्मानित किया गया, थाने गिरवी रख दिये गए। उन्होंने कहा कि आकड़ों की बात करें तो गन्ना किसानों का 25 हजार करोड़ का भुगतान बाकी था, चीनी मिलें औने-पौने दाम पर बेची गई थीं, जबकि हमने चीनी मिलें शुरू की।

योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने 119 चीनी मिलें हमने चलाई हैं, ऐसा लगता था सरकार न चल रही हो बल्कि लुटेरा बैठा है. हमने 15 हजार 30 करोड़ का भुगतान कल तक कर दिया था। इस वर्ष खाद्यान का रिकार्ड उत्पादन हुआ, धान 143.96 मीट्रिक टन का उत्पादन हुआ. 5500 सौ क्रय केंद्र हमने स्थापित किये हैं, 43 लाख मीट्रिक टन का क्रय पहली बार प्रदेश में हुआ है।

योगी ने बताया कि पहली बार आलू का समर्थन मूल्य घोषित किया गया, 549 रुपये का समर्थन मूल्य घोषित किया गया है जिसके बाद 2 लाख मीट्रिक टन खरीद की गई। 1 अप्रैल से प्रदेश में ई आफिस लागू किया जा रहा है, 1994 में एक नोटिफिकेशन जारी हुआ किसानों को ट्यूबवेल नहीं दिया जाएगा. जिसे हमने हटा दिया था।

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.