Press "Enter" to skip to content

छतरपुर में 2000 बेड वाला ‘सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर’ शुरू,दिल्ली सरकार को मिली 50 हजार रैपिड एंटीजन टेस्ट किट

नई दिल्ली। केंद्र सरकार कोविड-19 महामारी के प्रकोप से निपटने के अपने प्रयासों में राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों की मदद करता रहा है। केंद्र सरकार ने कोविड-19 के प्रसार को रोकने और इस बीमारी से निपटने के लिए राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली को जरूरी मदद दिया है। केंद्र सरकार की मदद से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में कोरोना की रोकथाम के उपायों को आगे बढ़ाने के प्रयास के तहत दिल्ली के छतरपुर में राधा स्वामी सत्संग ब्यास में 10 हजार बिस्तर वाला ‘सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर’ विकसित किया जा रहा है। इस केंद्र का पूरा संचालन, जिसमें चिकित्सा कर्मियों की अपेक्षित संख्या की उपलब्धता सुनिश्चित करना शामिल है, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ)को सौंपा गया है, जिसमें भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) सबसे आगे है और शनिवार को करीब 2,000 बिस्तरों को तुरंत काम लायक तैयार कर शुरू कर दिया गया है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने अब तक दिल्ली में 12सक्रिय प्रयोगशालाओं को 4.7 लाख आरटी-पीसीआर परीक्षण करने के लिए नैदानिक सामग्री की आपूर्ति की है। इसने परीक्षण करने के लिए आवश्यक 1.57 लाख आरएनए निष्कर्षण किट एवं 2.84 लाख वीटीएम (वायरल ट्रांसपोर्ट माध्यम) और कोविड -19 नमूनों का संग्रह करने के लिए स्वैब भी प्रदान किए हैं। मामलों के अचानक तेजी से बढ़ते देख आईसीएमआर ने एंटीगन-आधारित रैपिड परीक्षणों को मंजूरी दे दी है और कोविड-19 रोकथाम प्रयासों के तहत दिल्ली सरकार को 50,000 एंटीजन रैपिड टेस्ट किट की आपूर्ति की है। आईसीएमआर ने दिल्ली को ये सभी परीक्षण किट नि:शुल्क प्रदान किए हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मातहतराष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी)नेतकनीकी मार्गदर्शन के जरिए कोविड-19 पर निगरानी रखने और प्रतिक्रिया कार्यनीति के सभी पहलुओं पर दिल्ली सरकार की कोशिशों में मदद की है। इसमें महामारी की शुरूआत मेंक्वारंटाइन सुविधाओं और कोविड देखभाल केंद्रों (सीसीसी) की पहचान और उनका मूल्यांकन,संक्रमण की रोकथाम तथा नियंत्रण सहित निगरानी, संक्रमित व्यक्ति से हुए संपर्कों का पता लगानेतथा प्रयोगशाला पहलुओं पर आवश्यक प्रशिक्षण एवं तकनीकी सहायता और खामियों की पहचान करने तथा इसके लिए सुझाए गए समाधानों पर दिल्ली सरकार को आकंडों का सटीक विश्लेषण और समय पर प्रतिपुष्टि (फीडबैक) उपलब्ध कराना शामिल हैं। एनसीडीसी ने आरटी-पीसीआर द्वारा नमूनों के प्रसंस्करण के लिए प्रयोगशाला निदान सहायता भी प्रदान की है,जिसमेंदिल्ली सरकार के प्रयोगशाला कर्मचारियों को प्रशिक्षण देना भी शामिल है।

दिल्ली को दी 6.81 लाख पीपीई किट

इसके अलावा केंद्र सरकार ने 11.11 लाख एन 95 मास्क,6.81 लाख पीपीई किट,44.80 लाख एचसीक्यू टैबलेट खरीद कर दिल्ली में इसका वितरण किया है। दिल्ली को425 वेंटिलेटर आवंटित किए गए और उन्हें दिल्ली सरकार के विभिन्न अस्पतालों में लगाया गया है।

दिल्ली में 34समर्पित कोविड अस्पताल (डीसीएच), 4 समर्पित कोविड स्वास्थ्य केंद्र (डीसीएचसी),24 समर्पित कोविड स्वास्थ्य केंद्र (डीसीसीसी)हैं,जो कोविड -19 के रोगियों का इलाज उनकी स्थिति की गंभीरता को देखते हुए करते हैं। इस प्रकारदिल्ली में कोविड-19 के रोगियों के उपचार में कुल 62स्वास्थ्य केंद्र लगे हुए हैं। दैनिक आधार पर इन स्वास्थ्य सुविधा केंद्रों की संख्या बढ़ाई जा रही है।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.