Press "Enter" to skip to content

हरिद्वार: मांस की दुकानों के विरोध विहिप नेता चरणजीत पाहवा ने की आत्मदाह की कोशिश

हरिद्वार ।

मांस की दुकानों को हटाने की मांग पूरी न होने पर विश्व हिंदू परिषद के नेता चरणजीत सिंह पाहवा ने आत्मदाह की कोशिश की। उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसके बाद उन्हें देहरादून के कोरोनेशन अस्पताल के लिए रेफर किया गया है।  हरिद्वार जिला अस्पताल के सीएमएस डॉक्टर अर्जुन सेंगर ने इसकी पुष्टि की। वहीं घटना की सूचना पर एसएसी कृष्ण कुमार वीके भी मौके पर पहुंचे ।

 हाल ही में उन्होंने ज्वालापुर क्षेत्र में बिना एनओसी के चल ही मांस की दुकानों को एक सप्ताह के अंदर न हटाने पर प्रशासन को आत्मदाह की चेतावनी दी थी। नगर मजिस्ट्रेट को सौंपे ज्ञापन में विहिप नेता ने बताया था कि, पिछले 12 वर्षों से स्थानीय लोग मांस की अवैध दुकानों को हटवाने के लिए प्रयासरत हैं, लेकिन अब तक दुकानें हट नहीं सकी हैं।
2010 में जिलाधिकारी ने मांस की सभी दुकानों को नगर निगम क्षेत्र से बाहर करने का प्रस्ताव पास किया था और वर्ष 2017 में नगर निगम बोर्ड ने भी प्रस्ताव पर मुहर लगा दी थी। अभी तक मांस की दुकानें जस की तस है।

बताया कि मुस्लिम आबादी भी इन दुकानों से परेशान है और गंदगी व बीमारियां फैल रही है। वर्ष 2016 में सूचना अधिकार अधिनियम से मिली जानकारी का हवाला देते हुए विहिप नेता ने बताया कि नगर निगम ने 12 ही दुकानों को लाइसेंस दिए हुए है। जबकि दुकानों की संख्या सौ से भी ऊपर है।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.