Press "Enter" to skip to content

देश में सात लाख पार पहुंचे कोरोना मरीज, मौतों का आंकड़ा बीस हजार के नजदीक  

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के 31,996 नए मामले सामने आने के बाद अब देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले सात लाख के पार पहुंच गये हैं, जबकि एक दिन में 525 कोरोना मरीजों की मौत के साथ मरने वालों का आंकड़ा बीस हजार के नजदीक पहुंच रहा है। देश में तेजी से बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या के हिसाब से भारत अब तीसरे स्थान पर आ गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार सोमवार शाम सात बजे तक के कोरोना महामारी के ताजा आंकडे भारत के लिए बेहद चिंता पैदा करने वाले हैं। मसलन पिछले एक दिन में सोमवार को देश में सामने आए 31,996 नए मामलों के साथ भारत में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 7,05,161 हो गई है, जिनमें 2,55,025 लोगों का इलाज जारी है और 4,30,260 मरीज ठीक होकर अपने घर का रास्ता नाप चुके हैँ। सोमवार शाम सात बजे तक देश में कोरोना संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्या 19,793 हो गई है। वैश्विक महामारी से सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में इस आंकडे के साथ भारत रूस को पीछे छोड़ तीसरे स्थान पर पहुंच गया। इस सूची में अमेरिका पहले और ब्राजील दूसरे स्थान पर है। आंकड़ों के अनुसार देश में अभी तक कोविड-19 के 4,30,260 मरीजों के ठीक होने के बाद स्वस्थ्य होने की दर 60.85 प्रतिशत तक पहुंच गई है। पिछले एक दिन के अंतराल के दौरान 15,350 रोगी स्वस्थ हुए हैं।

महाराष्ट्र सर्वाधिक प्रभावित राज्य-कोरोना महामारी से सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में संक्रमण के 6555 मामले दर्ज किये गये, जिससे संक्रमितों का आंकड़ा 2,06,619 पर पहुंच गया है तथा 151 लोगों की मौत हुई है, जिसके कारण मृतकों की संख्या बढ़कर 8822 हो गयी है। राज्य में 1,11,740 लोग संक्रमणमुक्त हुए हैं। संक्रमण के मामले में दूसरे स्थान पर पहुंचे तमिलनाडु में संक्रमितों की संख्या 4150 बढ़कर 1,11,151 पर पहुंच गयी है और इसी अवधि में 60 लोगों की मौत से मृतकों की संख्या 1510 हो गयी है। राज्य में 62,778 लोगों को उपचार के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी जा चुकी है।

सरकार का परीक्षण बढ़ाने पर जोर-भारत में कोरोना संक्रमण के आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं। सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश भर में कोरोना वायरस की पॉजिटिव दर  6.73 प्रतिशत है। पूरे देश में अभी तक जितने भी कोरोना की जांच के लिए नमूने लिए गए हैं, उसके अनुसार भारत में कोरोना संक्रमण की औसत दर 6.73 फीसदी दर्ज की गई है। मंत्रालय ने कहा कि केंद्र सरकार ने टेस्टिंग बढ़ाने, अच्छी तरीके से कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और सही समय पर क्लीनिकल मैनेजमेंट पर जोर दिया है। सकारात्मकता की दर को महामारी के आकलन के लिए एक महत्वपूर्ण पैमाना माना जाता है।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.