Press "Enter" to skip to content

सोपोर में लश्कर-ए-तैयबा के 8 आतंकी गिरफ्तार, पुलिस कर रही पूछताछ

कश्मीर। जम्‍मू-कश्मीर में शांति भंग करने के लिए पाकिस्तानी सेना हर नापाक प्रयास कर रही है। हालांकि, भारतीय‌ सेना की सतर्कता के चलते ये आतंकी एलओसी पार नहीं कर पा रहे हैं। सोपोर में लश्कर-ए-तैयबा आतंकी संगठन के आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने इन सभी के पास से पोस्टर के ड्राफ्टिंग और प्रकाशन में उपयोग किए जाने वाले कंप्यूटर और अन्य सामान भी बरामद किए हैं।

राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने खुलासा किया कि 230 पाकिस्‍तानी आ‍तंकियों की पहचान हुई है, जो भारत में घुसपैठ की फिराक में हैं। हाल ही में खबर आई थी कि पाकिस्तानी सेना की सरपरस्ती में 100 से भी ज्यादा अफगानी और पश्तून आतंकी एलओसी पार करने की फिराक में है, लेकिन भारतीय‌ सेना की सतर्कता के चलते ये आतंकी एलओसी पार नहीं कर पा रहे हैं।

सूत्रों के मुताबिक, पुलिस को जानकारी मिली थी कि लश्कर कमांडर सज्जाद अहमद मीर उर्फ अबू हैदर के निर्देश पर कुछ लोग दुकानदारों को दुकानें न खोलने की धमकी दे रहे थे। इसके लिए पोस्टर भी चिपकाए गए थे। आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने पर पुलिस ने बारामूला जिले के कनिस्पोरा और डांगरपोरा में घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया।

इस दौरान पकड़े गए आठ आतंकियों से शनिवार को डांगरपोरा में एक घर में घुसकर गोलीबारी के मामले में पूछताछ की जा रही है। आतंकियों ने घर में घूसकर 30 महीने की बच्ची समेत चार लोगों को गोली मारकर जख्मी कर दिया था। हमले के बाद आतंकी भाग निकले थे। एनएसए अजीत डोभाल ने घायल लड़की को इलाज के लिए दिल्ली एम्स भेजा था।

ये आतंकी हुए हैं गिरफ्तार
सूत्रों की मानें तो मामले में अधिकारियों द्वारा की गई गहन जांच के अनुसार, यह पता चला है कि आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े आठ आतंकवादियों के सहयोगियों में से तीन अपराध को अंजाम देने के प्रमुख आरोपी थे। सभी गुप्त सामग्रियों को पुलिस ने जब्त कर लिया है। गिरफ्तार आठ आतंकवादियों में एजाज मीर, उमर मीर, तौसीफ नाजर, इम्तियाज नाजर, उमर अकबर, फैजान लतीफ, दानिश हबीब और शोकात अहमद मीर शामिल थे। उन्होंने पोस्टर तैयार किया और उन्हें इलाके में लगाया था।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.