Press "Enter" to skip to content

यूपी में कांग्रेस प्रवक्ता बनने के लिए हुई परीक्षा, पेपर देखकर नेता का हुआ बुरा हाल

लखनऊ।

मोदी सरकार में पेपर ली होने पर हंगाचा काटने वाली विपक्ष पार्टी कांग्रेस आज खुद ही सवालों के घेरे में है. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की प्रवक्ता परीक्षा शुरू होनें से पहले ही पेपर लीक हो गया. कांग्रेस सेवा दल के एक कार्यकर्त्ता ने प्रश्न पत्र की एक फोटो लेकर कई लोगों को सोशल मीडिया के द्धारा भेज दी. बताया जा रहा परीक्षा शुरू होनें से पहले ही पेपर वॉट्सऐप पर देखा गया. दिल्ली से 26 जून को संदेश आया कि पार्टी के एक प्रवक्ता लखनउ जा रहे है. जिन्हे उसने मिलना है वह अपना नाम दर्ज करा ले. मगर फिर 27 को मैसेज आया कि प्रियंका चतुर्वेदी आप सब से 28 जून को दोपहर ढाई बजे मिलेगी.

20 जून को प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने यूपी के मीडिया विभाग समेत अन्य विभागों को भंग कर दिया था. नए प्रवक्ताओं की तैनाती के लिए ही परीक्षा आयोजित की गई थी. राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी एक घंटे देर से पहुँची. किसी को पता भी नहीं था कि प्रवक्ता बनने के लिए परीक्षा भी देनी पड़ सकती है. प्रियंका अपने साथ पेपर लेकर आई थीं.

प्रश्नपत्र मिला तो प्रवक्ता बनने की ख्वाहिश रखने वालों के हाथ-पांव फूल गए. प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी सबको मोबाइल अपने पास रखे हुए थे. घंटे भर की परीक्षा में ही कई नेताओं को नानी याद आ गई. आलम यह था कि यूपी में लोकसभा की आरक्षित सीटें जानने के लिए दो नेता ‘एग्जामनेशन हॉल’ छोड़कर कम्प्यूटर रूम तक पहुंच गए और इंटरनेट के जरिए उत्तर पता किया। एक नेताजी बहुत तेजी से उत्तर लिखे जा रहे थे, थोड़ी देर में उनकी कॉपी छिन गई और बाकी लोग नकल करने लगे.

बातचीत के दौरान प्रियंका चतुर्वेदी ने साफ किया कि प्रवक्ताओं की औसत उम्र 40 साल होगी. इसे सुनकर 60 साल के हो रहे कई पूर्व प्रवक्ताओं के चेहरों पर मायूसी छा गई. हालांकि नए दावेदार बेहद खुश नजर आए.

ये सवाल पूछे गए थे
1. उत्तर प्रदेश में कितने मंडल, जिले और ब्लॉक हैं?

2. उत्तर प्रदेश में लोकसभा की कितनी आरक्षित सीटें हैं?

3. 2004 एवं 2009 में कांग्रेस कितनी सीटों पर जीती थी?

4. लोकसभा 2014, 2017 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का वोट प्रतिशत कितना था?

5. उत्तर प्रदेश में कितनी लोकसभा और विधानसभा सीटें हैं?

6.उत्तर प्रदेश में एक लोकसभा सीट में कितनी विधानसभा सीटें आती हैं?

7. किन लोकसभा सीटों पर मानक से कम या ज्यादा विधान सभा सीटें हैं?

8. प्रवक्ता का कार्य क्या होता है?

9. आप प्रवक्ता क्यों बनना चाहते हैं?

10. मोदी सरकार की असफलता के प्रमुख बिंदु क्या हैं?

11. योगी सरकार की असफलता के प्रमुख बिंदु क्या हैं?

12. मनमोहन सिंह सरकार की उपलब्धियां क्या थीं?

13.आज समाचार पत्र में तीन प्रमुख खबरें क्या हैं? जिन पर कांग्रेस प्रवक्ता बयान जारी कर सकें.

14. प्रमुख हिंदी/अंग्रेजी एवं उर्दू अखबार तथा चैनलों के नाम.

More from उत्तर प्रदेशMore posts in उत्तर प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.