Press "Enter" to skip to content

संसदीय समिति के सामने पेश होने से अमेजन का इनकार,विशेषाधिकार हनन के मामले में कार्रवाई संभव

नई दिल्ली।देश की दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ने डाटा प्रोटेक्शन बिल को लेकर संसद की संयुक्त समिति के सामने पेश होने से इनकार कर दिया है। समिति की प्रमुख और भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा कि इस विशेषाधिकार हनन करार दिया है। समिति ने अमेजन के प्रतिनिधियों से 28 अक्टूबर को पेश होने को कहा था।लेखी ने शुक्रवार को कहा कि समिति की सर्वसम्मत राय है कि ई-कॉमर्स कंपनी के खिलाफ सरकार को दंडात्मक कार्रवाई के लिए सुझाव दिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अमेजन ने 28 अक्तूबर को समिति के सामने पेश होने से इनकार कर दिया है और अगर ई-कॉमर्स कंपनी की ओर से कोई पेश नहीं हुआ तो यह विशेषाधिकार उल्लंघन के समान होगा। बहरहाल, फेसबुक की पब्लिक पॉलिसी प्रमुख अंखी दास डाटा सुरक्षा के मुद्दे पर शुक्रवार को समिति के सामने पेश हुईं। सूत्रों ने बताया कि समिति के सदस्यों ने फेसबुक इंडिया के प्रतिनिधियों से कई तरह के सवाल पूछे। बैठक के दौरान एक सदस्य ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनी को अपने विज्ञापनदाताओं के वाणिज्यिक फायदे के लिए अपने उपभोक्ताओं के डाटा में सेंध नहीं लगाने देनी चाहिए। समिति ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर के अधिकारियों को 28 अक्तूबर को और गूगल और पेटीएम के प्रतिनिधियों को 29 अक्तूबर को तलब किया है।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.