Press "Enter" to skip to content

सैन्य कमांडर कॉन्फ्रेंस में सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने की सुरक्षा स्थितियों पर चर्चा

नई दिल्ली। भारतीय सेना के प्रमुख जनरल एमएम नरवणे राजधानी दिल्ली में शीर्ष सैन्य कमांडरों के साथ सुरक्षा स्थिति पर चर्चा कर रहे हैं। सैन्य सूत्रों के मुताबिक सैन्य कमांडर कॉन्फ्रेंस के दूसरे चरण के लिए सभी कमांडर दिल्ली में मौजूद हैं। सेना के कमांडरों की कॉन्फ्रेंस एसीसी-20 (ACC-20) आज और कल यानी 22 और 23 जून को हो रही है। इस दौरान उत्तरी और पश्चिमी मोर्चे पर परिचालन की स्थिति की समीक्षा की जाएगी। इससे पहले सैन्य कमांडरों की कॉन्फ्रेंस का पहला चरण 27 मई से 29 मई तक चला था। इस दौरान लद्दाख में चीन के कारण उपजे हालात सहित सभी सुरक्षा मुद्दों पर चर्चा हुई थी। पहले यह कॉन्फ्रेंस 13 से 18 अप्रैल तक होनी थी, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण इसे टाल दिया गया था। बता दें कि इस समय लद्दाख में भारत और चीन की सीमा पर सीमा विवाद को लेकर दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर है।

जल्द लद्दाख का दौरा करेंगे सेना प्रमुख-पूर्वी लद्दाख में गलवां घाटी के पास वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर जारी तनाव के बीच सेना प्रमुख नरवणे जल्द ही लद्दाख का दौरा करेंगे। इस दौरान वह मौजूदा हालात और सुरक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लेंगे। बता दें कि फिलहाल एलएसी पर दोनों देशों के बीच सैन्य वार्ता का दौर चल रहा है।

भारत-चीन के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की दूसरे दौर की वार्ता-भारत और चीनी सेना के बीच पिछले हफ्ते गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद तनाव कम करने के उद्देश्य से सोमवार को दोनों देशों की सेनाओं के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की दूसरे दौर की वार्ता शुरू हुई है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि दोनों पक्षों द्वारा छह जून को लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की पहले दौर की बातचीत में बनी सहमति को लागू करने समेत विश्वास बहाली के उपायों पर चर्चा किए जाने की उम्मीद है। बातचीत में भारतीय पक्ष का नेतृत्व 14वीं कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह कर रहे हैं जबकि चीनी पक्ष का नेतृत्व तिब्बत सैन्य जिले के कमांडर कर रहे हैं।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.