Press "Enter" to skip to content

अनुच्छेद 370 पर संयुक्त राष्ट्र में कोई चर्चा नहीं होगी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महीने के अंत में अमेरिका की यात्रा पर जाने वाले हैं। पीएम मोदी के यूएस दौरे से पहले विदेश मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर यात्रा से जुड़ी कई अहम जानकारियां साझा कीं।
विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि, अनुच्छेद 370 पर संयुक्त राष्ट्र में कोई चर्चा नहीं होगी। दुनिया में कई मुद्दे हैं, उसमें आतंकवाद जरूर एक मुद्दा है, लेकिन उसपर हमारा फोकस नहीं होगा।  विदेश सचिव ने बताया कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 सितंबर की देर शाम से 27 सितंबर की दोपहर तक अमेरिका की यात्रा करेंगे। वे दो शहरों टेक्सास में ह्यूस्टन और न्यूयॉर्क जाएंगे। 22 सितंबर को मुख्य आकर्षण भारतीय समुदाय को प्रधानमंत्री मोदी संबोधित करेंगे। हमें खुशी है कि राष्ट्रपति ट्रंप भी वहां मौजूद होंगे। उन्होंने बताया कि, 24 सितंबर को, दोपहर में हम महात्मा गांधी की 150 वीं वर्षगांठ मनाने के लिए यूएन में कार्यक्रम का आयोजन करेंगे। इस कार्यक्रम का शीर्षक रखा गया है- नेतृत्व के मामले: समकालीन समय में गांधी की प्रासंगिकता’। गोखले ने बताया कि, इस इवेंट में 3 लॉन्च किए जाने वाले हैं। 1, गांधी सोलर पार्क, 1 मिलियन डॉलर के अनुदान से संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय के छत के ऊपर सौर पैनलों की स्थापना है। जो भारत ने नवीकरणीय ऊर्जा को बढ़ावा देने और सौर ऊर्जा के उपयोग के लिए हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाने के लिए दिया है। इसके अलावा स्वच्छ भारत अभियान के लिए बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन पीएम मोदी को ‘ग्लोबल गोलकीपर अवार्ड’ से सम्मानित करेगा। विदेश सचिव ने बताया कि, पीएम के अमेरिका दौरे के कार्यक्रम में संयुक्त राष्ट्र में बहुपक्षीय बातचीत और अमेरिका के साथ द्विपक्षीय बातचीत शामिल है। इसके अलावा पीएम अमेरिका दौरे में कई देशों के नेताओं के साथ मुलाकात करेंगे। इनमें कोरिया गणराज्य के राष्ट्रपति, सिंगापुर के पीएम, न्यूजीलैंड के पीएम, बांग्लादेश के पीएम, जमैका के पीएम और साथ ही संयुक्त राष्ट्र महासचिव शामिल होंगे। वहीं 27 सितंबर को प्रधान मंत्री संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे।यह पहली बार होगा जब प्रधानमंत्री 2014 के बाद यूएन की आम सभा को संबोधित करेंगे।विदेश मंत्री ने साफ किया पीएम मोदी यूएनजीए में अनुच्छेद 370 पर कोई चर्चा नहीं करेंगे। यह हमारे एजेंडे में शामिल नहीं है। विजय गोखले ने कहा कि, पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार को संयुक्त राष्ट्र में उठाया जाएगा या नहीं यह अभी तय नहीं है। ऐसी घटनाएं जब भी होती हैं तो हम उचित फोरम पर इसे उठाते रहते हैं। निश्चित रूप ये घटनाएं मानवाधिकारों के उल्लंघन से संबंधित हैं।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.