Press "Enter" to skip to content

सीमा पर ड्रोन और एंटी-ड्रोन सिस्टम से लैस होगी बीएसएफ

नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने भारत-पाकिस्तान सीमा पर सीमा सुरक्षा बल के लिए एंटी ड्रोन सिस्टम के लिए मंजूरी दे दी है। अब बीएसएफ के तकनीकी रूप से अपग्रेडेशन के तहत बल को 436 छोटे और सूक्ष्म ड्रोनों व एंटी-ड्रोन सिस्टम से लैस किया जाएगा। यह सिस्टम पंजाब, जम्मू और कश्मीर में आतंकवादियों के लिए हथियार ले जाने वाले किसी भी ड्रोन को मारकर गिराने में सक्षम होगा।

सूत्रों के अनुसार व्यापक एकीकृत सीमा प्रबंधन योजना के तहत पाकिस्तान और बांग्लादेश सीमा पर बीएसएफ द्वारा संचालित सभी 1923 सीमा चौकियों को सेंसरए सीसीटीवी और ड्रोन फीड से सुसज्जित किया जाएगा। इसमें 1,500 सीमा चौकियों की रेकी करने और एंटी ड्रोन सिस्टम का इस्तेमाल करने में सक्षम होंगे। गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार छोटे और माइक्रो ड्रोन की लागत लगभग 88 करोड़ रुपये आएगी। सुरक्षा एजेंसियों की मदद से बीएसएफ वर्तमान में संवेदनशील पंजाब सीमा पर स्वदेशी एंटी ड्रोन सिस्टम का परीक्षण कर रही है। पिछले एक साल में पाकिस्तान पंजाब में खालिस्तानी आतंकियों और जम्मू कश्मीर में जिहादियों को राइफल, पिस्तौल और ग्रेनेड पहुंचाने के लिए चीनी ड्रोन का इस्तेमाल कर रहा है। वैसे भी नए महानिदेशक राकेश अस्थाना ने अपने इरादे स्पष्ट कर दिए हैं कि बीएसएफ दोनों सीमाओं पर सक्रिय रहेगी और किसी भी भारत विरोधी गतिविधि की अनुमति नहीं देगी। माना जा रहा है कि बीएसएफ प्रमुख ने व्यक्तिगत रूप से कंपनी कमांडर से बात की, जिन्होंने तरनतारन सेक्टर में सफल ऑपरेशन को अंजाम दिया था। राकेश अस्थाना नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो में महानिदेशक का प्रभार भी संभाल चुके हैं। उन्हें ड्रग्स तस्करी के बारे में बखूबी जानकारी है। वे बीएसएफ की खुफिया शाखा को भी पुनर्जीवित करने में जुट गए हैं, ताकि अफगान ड्रग्स पाकिस्तान की सीमा पार न कर सके। इसके लिएए बीएसएफ और एनसीबी के बीच पंजाब और जम्मू-कश्मीर दोनों में सीमा पार से हथियारों की तस्करी और ड्रग्स के बड़े किंगपिन को लाने के लिए एक आम रणनीति अपनाई जाएगी।

 

इसे भी पढ़ें-राकेश अस्थाना ने बीएसएफ के महानिदेशक के रूप में पदभार संभाला,सीबीआई बनाम सीबीआई में चर्चा में आए थे अस्थाना

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.