Press "Enter" to skip to content

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में आज नए अध्यक्ष के चयन की स्थिति साफ होने की उम्मीद

नई दिल्ली। कांग्रेस की शुक्रवार को होने जा रही सर्वोच्च नीति निर्धारक इकाई, कांग्रेस कार्य समिति (सीडल्यूसी) की बैठक में पार्टी के नए अध्यक्ष के चयन की स्थिति साफ होने की उम्मीद है। हालांकि बैठक के लिए मुख्य विषय नए कृषि कानून, किसान आंदोलन और संसद का बजट सत्र बताया जा रहा है।

सीडब्ल्यूसी की यह बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए होगी। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में नए अध्यक्ष के चुनाव को हरी झंडी दी जा सकती है और चुनाव तिथि का ऐलान भी हो सकता है। इसकी संभावना इसलिए ज्यादा है, क्योंकि कांग्रेस संगठन चुनाव की प्रक्रिया चल रही है। सीडब्ल्यूसी की पिछली बैठक में ही पार्टी ने यह जानकारी दी थी और कहा था कि नए अध्यक्ष का चयन जल्द ही कर लिया जाएगा। दरअसल, पार्टी फरवरी-मार्च में महाधिवेशन करने का विचार कर रही है। इसके पहले संगठन चुनावों को पूरा करना होगा, ताकि महाधिवेशन में नए अध्यक्ष की ताजपोशी हो सके।

बता दें कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। तब से सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रही हैं। लेकिन उनकी स्वास्थ्य समस्या को देखते हुए नए अध्यक्ष के चयन की मांग पार्टी के भीतर तेजी से उठ रही है। वैसे भी सोनिया को यह जिम्मा संभाले हुए एक साल से ज्यादा का वक्त गुजर चुका है। इस बीच बिहार विधानसभा चुनाव और कुछ राज्यों के उप चुनावों में कांग्रेस के निराशाजनक प्रदर्शन ने नए, सक्रिय और प्रभावी अध्यक्ष की मांग को और बल दे दिया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल जैसे 23 नेताओं ने पार्टी का सक्रिय अध्यक्ष बनाए जाने की मांग को लेकर कुछ महीने पहले हाईकमान को चिट्ठी लिखी थी। इन चुनावों में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद इन नेताओं ने हाईकमान पर दबाव बढ़ा दिया है। बीते दिनों सोनिया गांधी ने चिट्ठी लिखने वाले कुछ नेताओं के साथ बैठक भी की थी, ताकि पार्टी के भीतर माहौल सामान्य बना रहे और अध्यक्ष का चुनाव आमसहमति से किया जा सके।

पार्टी के भीतर नेताओं का एक बड़ा धड़ा राहुल गांधी को ही फिर से कांग्रेस की कमान सौपे जाने का पक्षधर है और इसके लिए बाकायदा लॉबिंग भी कर रहा है, लेकिन इसके लिए राहुल गांधी कितने तैयार हैं, इसका खुलासा उन्होंने अब तक नहीं किया है। राहुल ने अपने इस्तीफे के वक्त ही पार्टी से कह दिया था कि अब किसी गैर गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जाना चाहिए। लेकिन, भूपेश बघेल, अशोक गहलोत, रणदीप सुरजेवाला जैसे नेता राहुल गांधी को ही अध्यक्ष बनाने की पैरोकारी कर रहे हैं।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.