Press "Enter" to skip to content

दिल्ली में कोरोना महामारी से मचा कोहराम,दो सप्ताह में गृह पृथक-वास और निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या में इजाफा

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर के बीच दिल्ली में पिछले दो सप्ताह में गृह पृथक-वास में जाने वालों की संख्या में 50 फीसद वृद्धि के साथ आंकड़ा 24,723 पहुंच गया है, वहीं इस अवधि में शहर में निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या में भी 32 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। महानगर में संक्रमण के नए मामलों में 28 अक्टूबर से तेजी आयी है और उस दिन 5673 नए मामले सामने आए जबकि आठ नवंबर को 7745 नए मामले सामने आये जो शहर में एक दिन में आए कोविड-19 के सर्वाधिक मामले हैं। इस दौरान शहर में 74,000 से ज्यादा कोविड-19 के मामले सामने आए हैं। इसे भी पढ़ें: कोविड-19 का कहर अब भी जारी! दुनियाभर में कोरोना के मामले पांच करोड़ के पार पहुंचे। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 26 अक्टूबर को शहर में 16,396 लोग गृह पृथक-वास में थे जबकि निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 2930 थी। वहीं 28 अक्टूबर को 5000 से ज्यादा नए मामले आने के बाद गृह पृथक-वास में जाने वालों की संख्या बढ़ कर 16,822 हो गई। राष्ट्रीय राजधानी में महामारी की तीसरी लहर के साथ ही शहर में निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या भी बढ़ गई है और शनिवार को उनकी संख्या 3878 पहुंच गई। शहर में 26 अक्टूबर को संक्रमण बढ़ने का दर जो कि 8.23 प्रतिशत था रविवार को वह बढ़कर 15.26 प्रतिशत हो गया। शहर में रविवार को गृह पृथक-वास में रहने वालों की संख्या 24,723 थी और 26 अक्टूबर के मुकाबले इसमें 50 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई है।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.