Press "Enter" to skip to content

कोरोना संक्रमण में छह माह बाद सामने आई भारी गिरावट,पिछले 24 घंटे में मिले 17,191 नए मरीज, 293 की मौत

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। पिछले 24 घंटे में 17,191 नए मामले रिपोर्ट किए गए हैं, जो हाल के कुछ महीनों में एक दिन में सामने आए संक्रमितों की सबसे कम संख्या है। वहीं, संक्रमणमुक्त मरीजों की संख्या बढ़कर 98 लाख के पार पहुंच गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 17,191 नए संक्रमित मिले हैं, इस तरह देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,02,25,062 हो गई है। वहीं, इस दौरान 293 लोगों ने संक्रमण के चलते अपनी जान गंवाई है, इसके बाद कोरोना मृतकों की संख्या बढ़कर 1,48,194 हो गई है। मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमणमुक्त मरीजों की संख्या बढ़कर 98,06,777 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 25,692 मरीजों ने वायरस को मात दी है और इलाज के बाद ठीक होकर घर लौटे हैं। वहीं, देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की संख्या तीन लाख से नीचे बनी हुई है। आंकड़ों के अनुसार, देश में कोविड-19 के कुल सक्रिय मामलों की संख्या 2,67,268 है, जिनका अस्पताल में इलाज जारी है। देश में कोविड-19 के मामलों में मृत्यु दर 1.44 प्रतिशत है, वहीं राष्ट्रीय स्तर पर मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 95.82 प्रतिशत हो गई है। भारत में कोविड-19 मामलों की संख्या सात अगस्त को 20 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख, 5 सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के आंकड़े को पार कर गई थी। संक्रमित लोगों की संख्या 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्तूबर को 70 लाख, 29 अक्तूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ के आंकड़े को पार कर गई। देश के सक्रिय मामलों का 60% से अधिक हिस्सा 5 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में है। लगभग 24% मामले केरल में, 21% महाराष्ट्र में, 5% से कुछ अधिक पश्चिम बंगाल में, लगभग 5% उत्तर प्रदेश में और 4.83% मामले छत्तीसगढ़ में हैं।

63 फीसदी पुरुष संक्रमित-केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने बताया कि लिंग के आधार पर कोरोना के मामलों का विश्लेषण करें दो कुल मामलों के 63 फीसदी पुरुष और 27 फीसदी महिलाएं थीं। आयु के हिसाब से आठ फीसदी मामले 17 साल से कम, 13 फीसदी मामले 18-25 वर्ष, 39 फीसद 26-44 वर्ष, 26 फीसदी 45-60 वर्ष और 14 फीसदी मामले 60 वर्ष आयु से अधिक के थे। राजेश भूषण ने कहा कि कोरोना के खिलाफ जंग में हमने अहम उपलब्धि हासिल की है। छह महीने बाद अब कोरोना कै दैनिक मामले 17 हजार से कम रह गए हैं और  दैनिक मृत्यु के मामलों की संख्या भी 300 से कम हो गई है। 55 फीसदी मामलों में मृतक की आयु 60 वर्ष या अधिक रही है और 70 फीसदी मृत्यु पुरुष मरीजों की हुई है।

कोरोना के नए स्ट्रेन के खिलाफ कारगर होगी वैक्सीन-प्रेस वार्ता में मौजूद रहे भारत सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार (पीएसए) प्रोफेसर के विजय राघवन ने कहा कि यूके और दक्षिण अफ्रीका में सामने आए कोरोना के नए स्ट्रेन के खिलाफ वैक्सीन काम करेगी। फिलहाल, ऐसा कोई सबूत नहीं है कि वर्तमान में मौजूद वैक्सीन कोविड-19 के प्रकारों पर असर न कर सकें। आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव ने कहा कि जरूरी है कि वायरस पर बहुत ज्यादा इम्यून दबाव न डालें। हमें ऐसी चिकित्साओं का विवेकपूर्ण उपयोग करना होगा जो लाभ देने वाली हैं। अगर लाभ नहीं होता है तो हमें उनका उपयोग नहीं करना चाहिए अन्यथा वायरस अधिक उत्परिवर्तित (म्यूटेट) होगा।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.