Press "Enter" to skip to content

देश में कोरोना संक्रमितो की संख्या 2301 पहुंची,जमात के 647 संक्रमित,अब तक हुई 56 की मौत

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक देशभर में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 2301 हो गई है। इनमें से 2088 सक्रिय मामले हैं, 157 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और एक बाहर चला गया है। वहीं 56 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में कोरोना वायरस के हालात को लेकर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन करते हुए बताया कि देश में कल से लेकर आज तक कोरोना वायरस के 336 नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इस जानलेवा वायरस से अब तक 2301 लोग संक्रमित हो चुके है और 56 लोगों की मौत हुई है। संयुक्त सचिव ने बताया कि इन 56 मौतों में से 12 मौतें कल हुई हैं। इस जानलेवा वायरस से अब तक 157 मरीज पूरी तरह ठीक हुए है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने मरीजों और उनके परिवारों से अपील की है कि वे डॉक्टरों की राह में कोई बाधा न खड़ी करें। उन्होंने डॉक्टरों और चिकित्सा कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार पर भी चिंता व्यक्त की है।

तब्लीगी जमात से जुड़े 647 लोग संक्रमित-तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों के संक्रमित होने पर जानकारी देते हुए सचिव ने कहा कि पिछले दो दिनों में तब्लीगी जमात से जुड़े 647 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं। ये सभी मामले देश के 14 राज्यों से सामने आए है। जिनमें अंडमान और निकोबार, असम, दिल्ली, हिमाचल, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तराखंड और यूपी में इससे जुड़े मामलों की पुष्टि हुई। सचिव ने कहा कि पिछले 24 घंटे में हुए 12 मौतों में कुछ मौतें तब्लीगी जमात से जुड़ी हुई थी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के जोखिम का आकलन करने में लोगों की मदद के लिए 30 लाख से अधिक लोग सरकार के मोबाइल ऐप डाउनलोड कर चुके हैं।

गृह मंत्रालय ने राज्यों को लिखी चिट्ठी-गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों को स्वास्थ्य सेवा और श्रमिकों पर हमले के मामलों में सख्त कार्रवाई करने और चिकित्सा उन्मूलन के लिए सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लिखा है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय के नियंत्रण कक्ष में सात हेल्पलाइन नंबर थे। अब, हमने दो और हेल्पलाइन नंबर शुरू किए हैं, जिसमें से 1930 (पूरे भारत के लिए टोल फ्री नंबर) और 1944 (पूर्वोत्तर के लिए समर्पित नंबर) शामिल हैं।

24 घंटे में 8 हजार नमूनों की जांच की गई-वही, इस संवाददाता सम्मेलन में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने जानकारी दी कि देश में कोविड-19 की जांच के लिए 182 लैब है, जिनमें से 130 लैब सरकार द्वारा संचालित की जा रही है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में 8,000 नमूनों की जांच की गई है।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.