Press "Enter" to skip to content

रविवार को कुछ कम हुई कोरोना की रफ्तार,देश में 17.50 लाख के पार हुए कोरोना मरीज, मृत्युदर में कमी

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी के प्रकोप में रविवार को थोडी राहत महसूस की गई है, जहां एक दिन में आए 61,437 नए मामलो और संक्रमितों की 941 मौतों के मामले पिछले तीन दिनों की तुलना में बेहद कमी देखी गई है। हालांकि देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 17.57 लाख के पार हो गई है, लेकिन स्वस्थ्य होने की संख्या में बढ़ोतरी तथा मृत्यु दर में भी कमी आई है। देश में रविवार की शाम छह बजे तक के आंकड़ो पर गौर की जाए तो देश में संक्रमितों की संख्यचा बढ़कर 17,57,425 हो गई है, जिसमें से सक्रिय 5,70,65 यानि 32.43 प्रतिशत मरीजों का इलाज चल रहा है और स्वस्थ्य होने वालों की दर में बढ़ोतरी के साथ 11,49,475 लोग कोरोना को हराकर ठीक हो चुके हैं। जबकि देश में अब तक 37,452 लोगों की मौत होने की पुष्टि हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक कोविड-19 से स्वस्थ होने की दर बढ़कर 65.44 प्रतिशत हो गई है जबकि मृत्यु दर घटकर 2.13 प्रतिशत रह गई है। देश में एक दिन के अंतराल में कोरोना संक्रमण से जिन 941 लोगों की मौत हुई है उनमें से सर्वाधिक 322 लोगों की मौत महाराष्ट्र में, 99 तमिलनाडु में, 98 कर्नाटक में, 58 आंध्र प्रदेश में, 48 पश्चिम बंगाल में, 47 उत्तर प्रदेश में, 26 दिल्ली में, 23 गुजरात में, 19 पंजाब में, 16 राजस्थान में, 13 बिहार में, तेलंगाना और जम्मू-कश्मीर में 11-11 और ओडिशा में 10 लोगों की मौत हुई है। मध्य प्रदेश में नौ, केरल में आठ, हरियाणा और झारखंड में सात-सात, असम, चंडीगढ़, गोवा और उत्तराखंड में तीन-तीन, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, छत्तीसगढ़, पुडुचेरी और तेलंगाना में दो-दो तथा मणिपुर में एक व्यक्ति की मौत संक्रमण के कारण हुई।

महाराष्ट्र बना मौतों का गढ़-कुल 37,364 मौत के मामलों में से, महाराष्ट्र में सबसे अधिक 15,316, तमिलनाडु में 4,034, दिल्ली में 3,989, गुजरात में 2,464, कर्नाटक में 2,412, उत्तर प्रदेश में 1,677, पश्चिम बंगाल में 1,629, आंध्र प्रदेश में 1,407 और मध्य प्रदेश में 876 लोगों की मौत हुई है। अब तक राजस्थान में 690 , तेलंगाना में 530, हरियाणा में 428, पंजाब में 405, जम्मू-कश्मीर में 388, बिहार में 309, ओडिशा में 187, झारखंड में 113, असम में 101, उत्तराखंड में 83 और केरल में 81 लोगों की मौत संक्रमण से हुई है। छत्तीसगढ़ में 55, पुडुचेरी में 51, गोवा में 48, त्रिपुरा में 23, चंडीगढ़ में 18, हिमाचल प्रदेश में 14, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लद्दाख में सात-सात, मणिपुर में छह, मेघालय और नगालैंड में पांच-पांच, अरुणाचल प्रदेश में तीन, दादरा एवं नागर हवेली और दमन और दीव में दो तथा सिक्किम में एक व्यक्ति की मौत हुई। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक, एक अगस्त तक देश में कुल 1,98,21,831 नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 4,63,172 नमूनों की जांच शनिवार को की गई।

दिल्ली में काबू होने लगा कोरोना-देश में कल तक तीसरे पायदान पर चल रही दिल्ली रविवार को घिसककर चौथे नंबर पर आ गई है, जबकि आंध्र प्रदेश में बढ़ते प्रकोप के कारण वह तीसरे स्थान पर चला गया है। पहले पायदान पर चल रहे महाराष्ट्र के बाद सबसे ज्यादा कोरोना मरीज तमिलनाडु में हैं जो दूसरे स्थान पर है। जहां तक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का सवाल है वहां रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 961 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 1,37,677 हो गई। इसके अलावा बीते 24 घंटे में 15 रोगियों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद 4,004 तक पहुंच गई है। दिल्ली में अब तक कुल 1,23,317 लोग संक्रमण से उबर चुके हैं। 10,356 लोग अब भी उपचाराधीन हैं। अधिकारियों ने कहा कि बीते 24 घंटे में 4,289 आरटी-पीसीआर और 8,441 रैपिड एंटीजेन टेस्ट किये गए हैं। निरुद्ध क्षेत्रों की संख्या 496 है।

स्वदेशी वेंटिलेटर के निर्यात मिली मंजूरी-देश में कोरोना के कारण मृत्युदर गिरकर 2.1 फीसदी पहुंचने के बाद देश में निर्मित वेंटिलेटर को निर्यात करने के स्वास्थ्य विभाग प्रस्ताव को मंत्री समूह ने मंजूरी दे दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 31 जुलाई तक केवल 0.22 फीसदी मरीजों को वेंटिलेटर सपोर्ट की जरूरत पड़ी है। मंत्रालय ने बताया कि मंत्री समूह के फैसले को लेकर डायरेक्टर जनरल ऑफ फॉरेन ट्रेड (डीजीएफटी) से भी बात हुई थी। स्वास्थ्य विभाग को उम्मीद है कि देश में निर्मित वेंटिलेटर के निर्यात की मंजूरी के बाद विदेशी बाजार में उसका दखल बढ़ेगा और देश के वेंटिलेटर निर्माता मजबूत होंगे। 24 मार्च को डीजीएफटी ने सभी वेंटिलेटर के निर्यात पर रोक लगा दी थी।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.