Press "Enter" to skip to content

दिल्ली में कोरोना वायरस का इलाज 3 गुना सस्ता,गृह मंत्रालय ने निजी अस्पतालों के लिए तय किये रेट

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बाद गृह मंत्रालय ऐक्शन में आ गया है। केंद्र ने राज्य में निजी अस्पतालों में कोरोना के इलाज की दरें कम कर दी है। गृह मंत्री अमित शाह ने नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल के नेतृत्व में एक आयोग का गठन किया था, जिसे दिल्ली के निजी अस्पातलों में आइसोलेशन बेड, बिना वेंटिलेटर सपोर्ट के साथ आईसीयू और वेंटिलेटर सपोर्ट के आईसीयू में कोरोना के इलाज की दर तय करनी थी। मंत्रालय के अनुसार गृह मंत्रालय ने कमिटी की सिफारिश मान ली है। समिति ने पीपीई किट के साथ आइसोलेशन बेड के लिए 8,000-10,000, बिना वेंटिलेटर के साथ ICU बेड का चार्ज 13-15 हजार होगा। जबकि वेंटिलेटर के साथ ICU बेड का चार्ज 15-18 हजार होगा। बता दें कि पहले निजी अस्पतालों में आइसोलेशन बेड का चार्ज 24-25 हजार रुपये था। वहीं ICU बेड का चार्ज 34-43 हजार के बीच था जबकि ICU वेंटिलेटर के साथ 44-54 हजार रुपये था। ये चार्ज पीपीई किट को छोड़कर लगते थे। गृह मंत्री शाह ने कुछ दिन पहले कहा था कि दिल्ली में जल्द ही तीन गुनी कोरोना टेस्टिंग होगी। दिल्ली में 15-17 जून के बीच कुल 27,263 सैंपल एकत्र किए गए थे। इससे पहले यह आंकड़ा 4-5 हजार के बीच था।

वीके पॉल के नेतृत्व में कमिटी का गठन-गौरतलब है कि गृह मंत्रालय ने निजी अस्पतालों में कोरोना इलाज की दर फिक्स करने के लिए नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल कमिटी बनाई थी। इस कमेटी ने आज गृह मंत्रालय को अपनी रिपोर्ट सौंपी है, रिपोर्ट में मौजूदा रेट को दो तिहाई कम करने का सुझाव दिया गया है। रिपोर्ट के अनुसार, गृह मंत्रालय ने इस रिपोर्ट को मान लिया है।

दिल्ली में कोरोना टेस्टिंग का रेट भी फिक्स-बता दें कि गृह मंत्रालय ने राजधानी में कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए यहां कोरोना टेस्टिंग का रेट फिक्स कर दिया था। मंत्रालय ने कोरोना की टेस्टिंग का रेट 2,400 कर दिया है। अब तक दिल्ली में कोरोना वायरस का टेस्ट 4,500 रुपये में हो रहा था। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि यह आम लोगों को ध्यान में रखते हुए किया गया फैसला है। यही नहीं, जांच अब ‘रैपिड एंटीजन’ पद्धति से जांच होगी जिससे तुरंत रिपोर्ट मिल जाएगी।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.