Press "Enter" to skip to content

नई शिक्षा नीति पर बोले रक्षा मंत्री राजनाथ,युवा शक्ति के जरिए हासिल करेंगे सबसे अधिक लक्ष्य

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हम दुनिया के सबसे युवा देशों में से एक हैं। हमारा युवा वह शक्ति है जिसके माध्यम से हम सबसे अधिक लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं। इस शक्ति को पहचानते हुए, पीएम मोदी ने सभी क्षेत्रों में युवाओं पर जोर दिया है। राजनाथ ने ‘नई शिक्षा नीति-2020’ पर आयोजित एक वेबिनार में इस बात का जिक्र किया। राजनाथ ने कहा, नई शिक्षा नीति में मातृभाषा और स्थानीय भाषा को महत्व दिया गया है। हमारी मातृभाषा हमारे ‘मन’ और ‘मान’ की भाषा होती है। यह न केवल हमारी अभिव्यक्ति का, बल्कि सीखने का भी सबसे सरल और समर्थ माध्यम होती है।  वेबिनार को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा, युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा, ‘नई शिक्षा नीति-2020’ विषय पर आयोजित कार्यक्रम में, आप सभी के बीच उपस्थित होने पर, मुझे बड़ी खुशी हो रही है। यह आयोजन देश के युवा छात्रों में, समकालीन मुद्दों पर जागरूकता लाने में एक अहम कड़ी साबित होगा। इसके लिए मैं आयोजकों को अपनी ओर से बधाई देता हूं। उन्होंने कहा किहमारे देश में युवाओं की एक बड़ी संख्या है। हम दुनिया के सबसे युवा देशों में से एक हैं। युवा हमारी वह ताकत हैं, जिनकी मदद से हम बड़ा से बड़ा मुकाम हासिल कर सकते हैं। हम सबको मालूम है, कि केंद्र सरकार ने ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020’ को मंजूरी दे दी है। भारतीय इतिहास में यह पहली नीति है, जिसके निर्माण में देश के 2.5 लाख ग्राम पंचायतों, 6600 ब्लॉक, और 676 जिलों की भागीदारी रही है। इसका निर्माण, बड़ी संख्या में शिक्षकों, शिक्षाविदों, अभिभावकों और अन्य नागरिकों द्वारा दिए गए 2 लाख से भी अधिक सुझावों को ध्यान में रखकर किया गया है। एक कहावत है कि जिंदगी सुधारनी है, तो व्यवसाय में निवेश करना चाहिए, पर पीढ़ियां सुधारनी हैं, तो शिक्षा में निवेश करना चाहिए। राजनाथ ने कहा कि इस शिक्षा नीति के तहत स्कूली शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक, कई अहम बदलाव किए गए हैं। इसका मुख्य उद्देश्य, विद्यार्थियों का समग्र विकास करते हुए, एक सशक्त, समृद्ध और श्रेष्ठ भारत का निर्माण करना है।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.