Press "Enter" to skip to content

भयावह गुड़िया एनाबेल कम्स होम के साथ बड़े पर्दे पर वापसी के लिए तैयार

नई दिल्ली- 28 जून को डर के मारे अपनी सीट से उछलने के लिए तैयार हो जायें, क्योंकि कॉन्ज्यूरिंग वाली भयावह गुड़िया एनाबेल कम्स होम के साथ बड़े पर्दे पर वापसी के लिए तैयार है। यह न्यू लाइन सिनेमा की बेहद सफल एनाबेल सीरीज की तीसरी फिल्मे है जो वार्नर ब्रदर्स पिक्चर्स द्वारा पूरे भारत में अंग्रेजी, हिंदी, तमिल और तेलुगु में रिलीज की जाएगी। एनाबेल फिल्मों, इट और आने वाली इट एनाबेल चैप्टर टू और द नन के स्क्रीन राइटर गैरी डॉबरमैन इस फिल्मग से निर्देशक की भूमिका संभाल रहे हैं। इस फिल्मो के निर्माता ‘एक्वामैन’ के निर्माता पीटर सफ्रान हैं, जिन्होंने कंज्यूरिंग के निर्माता जेम्स वॉन के साथ मिलकर कंज्यूरिंग फ्रैंचाइजी की सभी फिल्मों का निर्माण किया है। जेम्सै वॉन ने आखिरी पांच फिल्मों का निर्माण अपने एटॉमिक पीटर बैनर के तहत किया है।

एनाबेल की इस कहानी में प्रेत विशेषज्ञ एड और लोरेन वारेन हैं, जो प्रेतग्रस्तू गुड़िया को अपने घर के कलाकृतियों वाले बंद कमरे में लाते हैं, और उसे पवित्र ग्लास के पीछे सुरक्षित रूप से रखते हैं और एक पुजारी के पवित्र आशीर्वाद से बांधते हैं ताकि एनाबेल और अधिक कहर न बरपा सके। लेकिन, एक साल बाद, एक डरावनी अशुभ रात वारेन दम्पाति की दस वर्षीय बेटी, जूडी और उसके दोस्तों के कमरे में आने के बाद एनाबेल… और वहां रहने वाली सभी बुरी आत्माएँ जाग जाती हैं।

एड वॉरेन की भूमिका में वापसी करने वाले पैट्रिक विल्सन का कहना है कि वह और उनकी सह कलाकार वेरा फार्मिगा “इन भूमिकाओं को निभाना पसंद करते हैं क्योंकि हम जानते हैं कि प्रेतग्रस्त चीजों के साथ हम काफी कुछ डरावना ड्रामा करने जा रहे हैं, लेकिन इसके साथ ही इस दम्पपति के जीवन के कुछ अन्य पहलुओं को भी दर्शाया गया है। इस फिल्म में विशेष रूप से, हमारा हिस्सा काफी हद तक जूडी को प्यार करने वाले माता-पिता का है।”

विल्सन के साथ-साथ, फार्मिगा चैथी बार लोरेन वारेन की भूमिका में आ रही हैं। वह कहती हैं कि उन्हें इन कहानियों में जो चीज बहुत आकर्षित करती है, वह उनके प्यार की पवित्रता और उनका आपसी जुड़ाव है, और उनका आपस में बनाया गया संतुलन है। इसके अलावा, सामने आने वाने भयावह अंधकार के विपरीत उनका भरोसा ही उनके लिए मजबूत ताकत है।”

पैट्रिक के साथ एक बार फिर से काम करने के बारे में बताते हुए, फार्मिगा का कहना है कि वे जिस दृश्य की शूटिंग कर रही हैं, उसकी गंभीरता के बावजूद, “मुझे पैट्रिक की हर दिन मौजूद रहने वाली मुस्कान बहुत पसंद है। एक बार जब मैंने सिर्फ इसे जांचने के लिए समय सेट किया तो मैंने पाया कि वह 60 सेकंड की अवधि में कम से कम 15 बार मुस्कुराये हैं।”फार्मिगा कहती हैं कि “पैट्रिक अद्भुत हैं, और हमने इतना अच्छा समय साथ बिताया है, और इतनी फिल्मों में साथ काम किया है कि अब वह परिवार की तरह ही हैं। वह मेरे सीधे-सादे चचेरे भाई की तरह हैं।

दोनों कलाकारों को इन फिल्मों में काम करते हुए ऐसा नहीं लगता है कि जैसे यह एक डरावनी फिल्म है, क्योंकि वे एक ऐसी दम्पाति की भूमिका निभा रहे हैं जिन्होंने इस भूमिका को वास्त व में जीते हुए समझ और कृपा के सहारे इसका सामना किया है। मैं इन फिल्मों को स्टा्ईल वाली कहानी के रूप में नहीं, बल्कि एक प्रेम कहानी के रूप में देखती हूं, और मुझे लगता है कि इसीलिए यह हमारे लिए कारगर है।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.