Press "Enter" to skip to content

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी वेंटिलेटर सपोर्ट पर, हालत गंभीर,दिल्ली के आर्मी अस्पताल में चल रहा है इलाज

नई दिल्ली। आर्मी रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल ने मंगलवार को कहा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ब्रेन सर्जरी के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं उनका कोविड -19 टेस्ट भी पॉजीटिव पाया गया है। आर्मी अस्पताल ने अपने एक बयान में कहा कि अस्पताल में जांच के बाद खुलासा हुआ कि उनके मस्तिष्क में एक बड़ा थक्का है, जिसकी वजह से उनका जीवन बचाने के लिए एक सर्जरी करना आवश्यक था। आपातकालीन सर्जरी के बाद भी वह वेंटिलेटरी सपोर्ट पर हैं, उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। उन्होंने 10 अगस्त को ट्वीट किया था, “एक अलग इलाज के लिए अस्पताल आया हूं और यहां आज मेरा कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आया है। पिछले सप्ताह मेरे संपर्क में आए लोगों से मैं अनुरोध करता हूं कि वे स्वयं को आइसोलेट कर लें और कोविड-19 का टेस्ट कराएं। मुखर्जी के यह खबर साझा करते ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी के नेता रामविलास पासवान ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कहा, “पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी दा के कोविड-19 पॉजिटिव होने की खबर सुनकर चिंतित हूं। मेरी प्रार्थनाएं उनके और उनके परिवार के साथ हैं। मैं उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.