Press "Enter" to skip to content

सरकार छह केंद्रीय फॉरेंसिक प्रयोगशालों को बनाएगी आधुनिक,जघन्य अपराधों की जांच में मिलेगी ज्यादा मदद

नई दिल्ली। गृह मंत्रालय ने जघन्य अपराधों की जांच में मदद के लिए छह केंद्रीय फॉरेंसिक प्रयोगशालाओं को आधुनिक बनाने का निर्णय लिया है। सरकार ने जिन केंद्रीय फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशालाओं (सीएफएसएल) को आधुनिक बनाया जाएगा उनमें चंडीगढ़, हैदराबाद, कोलकाता, भोपाल, पुणे और गुवाहाटी स्थिति प्रयोगशालाएं हैं। सूत्रों के अनुसार गृह मंत्रालय ने फॉरेंसिक विज्ञान सेवा निदेशालय के तहत छह सीएफएसएल की क्षमताओं बढ़ाने का निर्णय लिया है। सरकार गंभीर और जघन्य अपराधों में अधिक कुशल और वैज्ञानिक जांच की सुविधा के लिए यह कदम उठा रही है। हाल ही में संयुक्त रूप से अनुसंधान गतिविधियों के लिए नई दिल्ली के फॉरेंसिक विज्ञान सेवा निदेशालय, ‘इंस्टीट्यूट ऑफ बिहेवियरल साइंसेज’ और ‘गुजरात फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी’ के बीच समझौता हुआ था।फोटो साभार-lvcriminaldefence.com

More from अपराधMore posts in अपराध »
More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.