Press "Enter" to skip to content

‘लाल इश्क’ के डरावने लोकेशन ने ‘झलक देसाई’ के उड़ाये होश

मुम्बई।हाल में सुपरनैचुरल कहानियों वाले नये-नये शोज़ और कहानियों की प्रस्तुति ने टेलीविजन इंडस्ट्री में धूम मचा रखी है। आकर्षक कंटेंट के साथ, दर्शक अपने आपको रोक नहीं पा रहे हैं और टेलीविजन स्क्रीन पर नज़र गड़ाये बैठे हैं। इस तरह के कंटेंट को देखना ना केवल दर्शकों को लुभा रहा है, बल्कि उन कलाकारों के लिये भी इस जोनर में काम करना काफी दिलचस्प और रोमांचक है। इसी तरह का एक शो है -&tv का ‘लाल इश्क’, जो जुनूनी प्यार की कहानियों का संग्रह है। इसके साथ है काफी सारा इमोशन और सुपरनैचुरल तत्व। अलग-अलग पृष्ठभूमि पर बना यह अपने तरह का अनूठा शो है। ‘लाल इश्क’ के आगामी एपिसोड में झलक देसाई को छाया का किरदार निभाते हुए देखेंगे।

हर तरह की भूमिकाएं निभाने के लिये तैयार और विभिन्न किरदारों के साथ प्रयोग करने के लिये मशहूर झलक पहली बार सुपरनैचुरल जोनर में कदम रखती हुई नज़र आयेंगी। उन्हें खुद को चुनौती देते हुए और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करते हुए देखा जा सकेगा। इस तरह के शोज़ में अभिनय करना बच्चों का खेल नहीं। कई बार सेट, कपड़े, लोकेशन और शूटिंग का समय शूटिंग की इस पूरी प्रक्रिया को कलाकारों के लिये बेहद डरावना और भयावह बना देता है। आगामी एपिसोड्स के लिये झलक को देर रात एक जंगल में एक सीक्वेंस की शूटिंग करने पड़ी। 4 दिनों तक चली इस शूटिंग का ज्यादातर हिस्सा जंगल के बीचोंबीच क्रू के बेहद ही कम सदस्यों के साथ फिल्माया गया।

देर रात जंगल में झलक का यह पहला अनुभव बेहद डरावना और रोमांचक था। इस बारे में अपनी बात रखते हुए, झलक ने कहा, ‘‘इंसानों को दूसरी दुनिया की बातें डराती हैं और मानवीय इतिहास की कई सारी संस्कृतियों में इनका अस्तित्व रहा है। वास्तविक जीवन में मैं भूतों और आत्माओं से बहुत डरती हूं, यही वजह है कि अब तक मैंने सुपरनैचुरल शो नहीं किए थे। मैं पहली बार इस शो को इसलिए कर रही हूं ताकि अपने डर को खत्म कर सकूं। देर रात जंगल में शूटिंग करना आसान काम नहीं है और खासकर मेरे जैसे इंसान के लिये जोकि आसानी से डर जाये (हंसते हुए)। मैं बहुत ही ज्यादा डरी हुई थी और मेरे चेहरे पर डर नज़र आने से आखिरकार सीन को करने में मदद मिली। जंगल में शूटिंग के दौरान मेरा सामना कई तरह के कीड़े-मकोड़ों और सांपों से हुआ, जोकि यहां-वहां से निकल रहे थे। वहां से भागने का कोई विकल्प नहीं था, बल्कि उस स्थिति का सामना करना ही था और अपने डर के साथ आगे बढ़ना था। कुल मिलाकर, मैंने कोई भी शिकायत नहीं की। यह सब इसलिये क्योंकि मुझे इतने बेहतरीन शो में काम करने का मौका मिला और परदे पर यह काफी वास्तविक नज़र आ रहा है, इससे भी मुझे अपने डर से लड़ने में मदद मिली।’’

 

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.