Press "Enter" to skip to content

भारत ने वेल्टहंगरलाइफ के समक्ष रखी भुखमरी संबंधित आंकड़ों की चिंता

नई दिल्ली। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को राज्यसभा में कहा कि सरकार ने देश में भुखमरी के स्तर की गणना के लिए आंकड़ों की उपयुक्ता व सटीकता के संबंध में संगठन वेल्टहंगरलाइफ के साथ अपनी चिंताओं को साझा किया है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि वर्ल्डवाइड और वेल्टहंगरलाइफ द्वारा प्रकाशित वैश्विक भूख सूचकांक (जीएचआई) रिपोर्ट 2020 के अनुसार भारत 27.2 स्कोर के साथ और 107 में से 94 वें स्थान पर है। जीएचआई रिपोर्ट 2019 के अनुसार भारत 30.3 स्कोर के साथ 117 में से 102वें कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को राज्यसभा में कहा कि सरकार ने देश में भुखमरी के स्तर की गणना के लिए आंकड़ों की उपयुक्ता व सटीकता के संबंध में संगठन वेल्टहंगरलाइफ के साथ अपनी चिंताओं को साझा किया है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि वर्ल्डवाइड और वेल्टहंगरलाइफ द्वारा प्रकाशित वैश्विक भूख सूचकांक (जीएचआई) रिपोर्ट 2020 के अनुसार भारत 27.2 स्कोर के साथ और 107 में से 94 वें स्थान पर है। जीएचआई रिपोर्ट 2019 के अनुसार भारत 30.3 स्कोर के साथ 117 में से 102 वें स्थान पर था। उन्होंने कहा कि यह देश में भूख को कम करने की दिशा में सुधार दिखाता है क्योंकि 2019 से 2020 के दौरान जीएचआई स्कोर 30.3 से घटकर 27.2 हो गया है। उन्होंने कहा कि तथापि सरकार ने भारत में भुखमरी के स्तर की गणना के लिए उपयोग किए जाने वाले आंकड़ों की उपयुक्तता, सटीकता और प्रतिनिधित्व के बारे में वेल्टहंगरलाइफ के साथ देश की चिंताओं को उठाया है। उन्होंने कहा कि 2017-28 में आयोजित व्यापक राष्ट्रीय पोषण सर्वेक्षण (सीएनएनएस) के अनुसार 2015-16 के राष्ट्रीय परिवार सर्वेक्षण 4 (एनएफएचएस -4) की अपेक्षा अपव्यय, कुपोषण जैस विभिन्न क्षेत्रों में सुधार हुआ है। मंत्री ने कहा कि भूख और कुपोषण को दूर करने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं और जिनमें पोषण अभियान, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा कानून आदि शामिल हैं।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.