Press "Enter" to skip to content

लोकसभा अध्यक्ष की बेटी का सिविल सेवा में चयन

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की बेटी अंजलि का चयन संघ लोकसेवा आयोग (यूपीएससी) की सिविल सेवा के लिए हुआ है। यूपीएससी ने अपनी रिजर्व सूची के 89 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। रामजस कॉलेज से राजनीति विज्ञान (स्नातक) की पढ़ाई करने वाली अंजलि ने पहले प्रयास में सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए उत्तीर्ण किया।अंजलि ने मंगलवार को बताया कि इस परीक्षा में चुने जाने पर मैं काफी खुश हूं। मैं समाज के लिए कुछ करने की खातिर  सिविल सेवा में शामिल होना चाहती हूं क्योंकि मैंने हमेशा अपने पिता की प्रतिबद्धता देश के लोगों के प्रति देखी। उन्होंने कहा कि उनकी बड़ी बहन आकांक्षा ने उन्हें परीक्षा पास करने में मदद की जो चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं। उन्होंने कहा कि मेरी सफलता का श्रेय विशेष रूप से मेरी बड़ी बहन को जाता है। उन्होंने मुख्य परीक्षा की तैयारियों में मेरी काफी मदद की। सिविल सेवा परीक्षा का आयोजन वार्षिक रूप से तीन चरणों में होता है। प्रारंभिक, मुख्य और साक्षात्कार। इस परीक्षा के माध्यम से भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) और भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) एवं अन्य सेवाओं के अधिकारियों का चयन होता है। 2019 के सिविल सेवा परीक्षा के परिणाम चार अगस्त 2020 को घोषित किए गए थे जिनमें आईएएस, आईएफएस, आईपीएस एवं अन्य समूह ‘ए’ तथा समूह ‘बी’ की सेवाओं के लिए 829 उम्मीदवार उत्तीर्ण हुए थे, जबकि रिक्त पदों की संख्या 927 थी। 2019 के सिविल सेवा परीक्षा के आधार पर आयोग ने सोमवार को अंजलि सहित 89 और उम्मीदवारों को अपनी रिजर्व सूची से उत्तीर्ण घोषित किया।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.