Press "Enter" to skip to content

महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट के सबसे सफल कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास की घोषणा कर दी। स्वतंत्रता दिवस के दिन धोनी ने क्रिकेट से खुद को स्वतंत्र कर दिया। वहीं उनके साथी रहे धुआंधार बल्लेबाज सुरेश रैना ने भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

इंस्टाग्राम पर सन्यास की घोषणा करते हुए 39 साल के धोनी बोले-प्यार और सपोर्ट के लिए शुक्रिया, अब मुझे रिटायर समझें। प्रतिक्रिया में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा-हर चीज के लिए शुक्रिया कप्तान!

धोनी भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान थे, जिनके नेतृत्व में टीम ने आईसीसी की तीनों श्रेणी के क्रिकेट में विजय हासिल की थी। लेकिन महेंद्र सिंह धोनी कोई यूं ही नहीं बन जाता। उन्हें ऐसे ही कोई कैप्टन कूल नहीं कहा जाता था। वे अपना काम पूरी लगन और बिना किसी दिखावे के करते रहने वाले शख्स हैं। तभी तो बिना किसी शोर के इंस्टाग्राम पर अपनी तस्वीरों में बुनी गजल मैं पल दो पल का शायर हूं…का वीडियो पोस्ट किया और लिखा-आप लोगों की तरफ से हमेशा मिले प्यार और सपोर्ट के लिए शुक्रिया। आज शाम 7 बजकर 29 मिनट के बाद से मुझे रिटायर ही समझें। धोनी ने अपने पूरे कैरियर में कभी भी कोई बड़ा इंटरव्यू नहीं दिया। किसी टीवी शो में नहीं गए। शादी भी चुपचाप कर ली। फिल्म में उन्हें जी चुके सुशांत की मौत पर भी कोई बयान नहीं दिया। संन्यास का भी ऐलान उस दिन किया जब अगले दिन कोई अखबार नहीं निकलने वाला। सन्यास के बाद भी धोनी फिलहाल आईपीएल खेलते रहेंगे।

धोनी ने अपने भारतीय क्रिकेट टीम में एंट्री सौरव गांगुली की कप्तानी में की थी। धोनी ने पहला मैच 23 दिसंबर 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ चटगांव में खेला था। गांगुली ने अपनी जगह धोनी को नंबर-3 पर बैटिंग के लिए भेजा था। डेब्यू मैच में धोनी रनआउट हुए थे। धोनी इस सीरीज में फ्लॉप रहे थे। उन्होंने तीन वनडे में सिर्फ 19 रन बनाए थे, लेकिन अगली सीरीज में पाकिस्तान के खिलाफ 123 बॉल पर 148 रन की यादगार पारी खेलकर वे टीम के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ी बन गए थे।

धोनी के सन्यास के ऐलान के कुछ देर बाद ही सुरेश रैना ने भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास की घोषणा कर दी। हालांकि यह अप्रत्याशित था। धोनी जहां पिछले विश्व कप के बाद से क्रिकेट से लगभग दूर थे, लेकिन रैना लगातार क्रिकेट खेल रहे थे। लंबे समय से टीम इंडिया में अपने लिए जगह बनाने की कोशिश कर रहे थे। उम्मीद की जा रही थी कि आईपीएल में उनका प्रदर्शन बेहतर रहा तो वे एक बार फिर टीम इंडिया में वापसी कर सकते हैं। लेकिन कोरोना महामारी की वजह से बाकी क्रिकेट मैचों के रद्द होने और आईपीएल के भी देर से होने के चलते रैना थोड़े हताश हुए और जब धोनी के सन्यास की खबर सामने आई तो रैना ने भी अपने सन्यास की घोषणा कर दी।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.