Press "Enter" to skip to content

कोविड-19 टीकाकरण में होगा मोबाइल टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल: मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को इंडियन मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) 2020 को संबोधित करते देश में 5 जी तकनीक को समय पर लॉन्च करने के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि यह सोचना और योजना बनाना महत्वपूर्ण है कि हम आगामी प्रौद्योगिकी क्रांति के साथ जीवन को कैसे बेहतर बनाते हैं।  आईएमसी 2020 का आयोजन भारत सरकार के दूरसंचार विभाग और सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) की ओर से  किया जा रहा है। यह आयोजन आठ से दस दिसंबर 2020 तक चलेगा। कोरोना वायरस महामारी पर काबू पाने के लिए टीका जल्द ही उपलब्ध होने की बढ़ती संभावनाओं के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोविड-19 टीकाकरण अभियान में मोबाइल प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मोबाइल प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से अरबों डालर के लाभ को उनके सही लाभार्थियों तक पहुंचाने में सफलता मिली है। कोरोना वायरस महामारी के दौरान भी इस तकनीक से गरीबों और समाज के वंचित तबकों तक मदद पहुंचाने में काफी सहारा मिला है। मोदी ने कहा कि मोबाइल प्रौद्योगिकी की मदद से ही हम दुनिया के सबसे बड़े कोविड-19 टीकाकरण की दिशा में आगे बढ़ेगें।

किसानों के लिए बेहतर अवसर तैयार करें-पीएम मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा, ‘बेहतर स्वास्थ्य सेवा, बेहतर शिक्षा, हमारे किसानों के लिए बेहतर जानकारी और अवसर, छोटे व्यवसायों के लिए बेहतर बाजार तक पहुंच कुछ ऐसे लक्ष्य हैं जिनकी ओर हम आगामी प्रौद्योगिकी क्रांति के दम पर मिलकर काम कर सकते हैं।

भारत को दूरसंचार का वैश्विक केंद्र बनाएं-उन्होंने आह्वान किया कि आइये हम भारत को दूरसंचार उपकरण, डिजाइन, विकास और विनिर्माण का एक वैश्विक केंद्र बनाने के लिए मिलकर काम करें। लाखों भारतीयों को सशक्त बनाने के लिए हमें 5जी तकनीक का समय पर लॉन्च सुनिश्चित करने के लिए एक साथ काम करने की आवश्यकता है।

नवाचार से महामारी में दुनिया बनी रही सक्रिय-हाल में हुए नवाचारों को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा कि यह आपके नवाचार और प्रयासों के कारण है कि दुनिया महामारी के बावजूद सक्रिय थी। यह आपके प्रयासों के कारण है कि एक बेटा अपनी मां के साथ एक अलग शहर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ा हुआ है। एक छात्र अपने शिक्षक से कक्षा में आए बिना सीख रहा है। एक मरीज अपने डॉक्टर से अपने घर से सलाह ले पा रहा है। एक व्यापारी एक उपभोक्ता के साथ दूसरे राज्य और प्रदेश में होते हुए भी जुड़ा हुआ है।

गरीबों की मदद में सक्षम हुए-पीएम मोदी ने कहा, लेकिन अक्सर, जो बात सबसे ज्यादा मायने रखती है वह यह है कि युवाओं को उनके उत्पाद पर विश्वास है। यह मोबाइल प्रौद्योगिकी के कारण है कि हम लाखों भारतीयों को अरबों डॉलर के लाभ प्रदान करने में सक्षम हैं। मोबाइल तकनीक की वजह से है कि हम महामारी के दौरान गरीबों और कमजोरों की मदद करने में सक्षम थे।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.