Press "Enter" to skip to content

एमआर टीकाकरण अभियान जुलाई से, 9 माह से 15 वर्ष तक के बच्चों को लगेगा टीका

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुजफ्फरनगर। जिले में आगामी जुलाई से खसरा रुबेला (एमआर) टीकाकरण अभियान शुरू होगा। 9 माह से 15 वर्ष तक की आयु के सभी बच्चों कोएमआर का टीका लगाया जाएगा।  अभियान के तहत स्कूलों, सामुदायिक केंद्रों व आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों को टीका लगाया जाएगा। टीका उन बच्चों को भी लगाया जाएगा, जिन्हें पहले एमआर का टीका लगाया जा चुका है। इसी कड़ी में मंगलवार को एक दिवसीय जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें एमआर टीकाकरण के बारे में बताया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पी एस मिश्रा ने बताया कि खसरा-रुबेला का टीका सुरक्षित टीका है। 40 वर्षों से इसका उपयोग किया जा रहा है। राज्य में जुलाई 2019 से टीकाकरण अभियान शुरू किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि देश में खसरा रोग के चलते प्रतिवर्ष करीब50 हजार बच्चों की मौत हो जाती है। कार्यशाला में डॉ. पीएस मिश्रा, पुष्पा रानी,अरविंद गर्ग, गीतांजली वर्मा सहित कई शिक्षा व चिकित्साकर्मी मौजूद रहे।

खसरा के क्या हैं लक्षण व क्यों जरूरी है टीका डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि डॉ. शरण कुमार ने बताया कि खसरा वायरस जनित जानलेवा रोग है। इसमें बुखार, खांसी, जुकाम, आंखें लाल होना आदि लक्षण दिखते हैं। खसरे के चकत्ते बुखार आने के दो दिन बाद दिखते हैं। इसमें डायरिया, निमोनिया, मस्तिष्क की सूजन जैसी जटिलताएं भी हो सकती हैं। कुपोषित बच्चों को भी यह टीका लगाना है। क्योंकि इस प्रकार के बच्चों में संक्रमण की आशंका ज्यादा होती है। किसी भी प्रकार की गंभीर बीमारी, तेज बुखार और गर्भावस्था में यह टीका नहीं लगाया जाता है। गर्भवती महिलाओं में रूबेला रोग होने से जन्मजात रूबेला सिन्ड्रोम हो सकता है। जो गर्भ में पल रहे भ्रूण व नवजात शिशु के लिए बेहद गंभीर हो सकता है। रुबेला से गर्भवती माताओं के अबोर्शन, नवजात की मौत,नवजात को जन्मजात बीमारी का खतरा रहता है, अगर बच्चा जन्म ले भी लेता है तो उसका जीवन भी परेशानियों से भरा होता है, जिसमें आंख में ग्लूकोमा, मोतियाबिन्द, बहरापन के साथ मस्तिष्क प्रभावित हो सकता है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
More from शहरनामाMore posts in शहरनामा »

Be First to Comment

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Mission News Theme by Compete Themes.