Press "Enter" to skip to content

राष्ट्रीय पोषण माह: अभियान के दूसरे दिन मनाया गया सुपोषण दिवस

मेरठ। राष्ट्रीय पोषण माह के दूसरे दिन आंगनबाड़ी केंद्रों पर सुपोषण दिवस का आयोजन किया गया। जिला कार्यक्रम अधिकारी विनीत कुमार सिंह ने बताया कि इस आयोजन के दौरान गर्भवती एवं धात्री महिलाओं के पति और बच्चो के पिता की बैठक ग्राम प्रधान कि अगुवाई में आयोजित की गई।

सुपोषण दिवस में पोषण पर चर्चा करते हुए, ऊपरी आहार पुस्तिका, या ऊपरी आहार के मॉड्यूल से पढ़कर ऊपरी आहार का सही समय, उसकी  गुणवत्ता, मात्रा एवम् भोजन की आवृत्ति पर चर्चा की गई, साथ ही बच्चों के वृद्धि में माता के साथ साथ पिता की भूमिका के बारे में चर्चा की गई।

इस दिवस कि पोषण अभियान में अहम भूमिका है, क्योंकि यह दिवस यह पिता और पति की भागीदारी बढ़ाने और उन्हें बच्चे के विकास में उनकी ज़िम्मेदारियों के बारे में बताता है। हमें यह भी सुनिश्चित करना होगा कि पिता भी अपने बच्चे के बारे में जानें और समझें की उसकी भागीदारी के बच्चे लिए उतनी ही महत्वपूर्ण है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि जनपद की सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पोषण माह के दौरान यह सुनिश्चित करने की कोशिश में है, कि वह हर घर पोषण व्यवहार को बदलें और जनपद को कुपोषण मुक्त बनाएं।

सुपोषण दिवस पर मुख्यतः यह संदेश देने का प्रयास किया गया :
1. गर्भवती महिलाओं की कम से कम तीन बार प्रसव पूर्व जांच करवाना सुनिश्चित करना ।

2. गर्भवती महिलाओं के पोषण पर ध्यान देना, उनके खाने  विविधता सुनिश्चित करना तथा ये सुनिश्चित करना कि वह आयरन की गोलियां समय से खाए और रात में सोने के पहले खाने की सलाह देना।

3. 6 माह तक बच्चो को सिर्फ स्तनपान करवाना सुनिश्चित करना। स्तनपान के अलावा कुछ नहीं।

4. 6 माह के बाद ऊपरी आहार पर चर्चा कर बताना की 6-8 माह के बच्चों को 250 एमएल कटोरी से 1/2कटोरी दिन में 2 बार खिलाना होता है, साथ ही स्तनपान सुनिश्चित करना होता है। वहीं 9-11 महीने के बच्चों को स्तनपान के साथ 250 एमएल कटोरी से1/2 कटोरी दिन में 3 बार साथ ही दो बार पोष्टिक नाशता देना चाहिए और 12-24 महीने के बच्चों को स्तनपान के साथ 250 एमएल कटोरी से एक कटोरी दिन में तीन बार, साथ ही दो बार पोष्टिक नाश्ता देना चाहिए।

5. बच्चो को सभी टीके लगे यह सुनिश्चित करना भी पिताओं कि ज़िम्मेदारी है।

More from सेहत जायकाMore posts in सेहत जायका »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.