Press "Enter" to skip to content

एनसीपी ने तीन लापता विधायकों से संपर्क किया, पार्टी के साथ होने का दावा किया

मुंबई। एनसीपी ने रविवार को दावा किया है कि शनिवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में देवेंद्र फड़णवीस और उपमुख्यमंत्री के रूप में अजित पवार के शपथ ग्रहण के बाद लापता हुए उसके पांच में से तीन विधायक से संपर्क किया गया है और वे पार्टी के साथ हैं।

पार्टी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि रविवार सुबह तक पांच विधायकों- दौलत दरोडा (शाहपुर), नितिन पवार (कलवन), नरहरी झिरवाल (डिंडोरी), बाबासाहेब पाटिल (अहमदपुर), अनिल पाटिल (अमलनेर) के लापता होने की सूचना है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने अनिल पाटिल, बाबासाहेब पाटिल और दरोडा से संपर्क किया है। राकांपा के प्रवक्ता नवाब मलिक ने रविवार को अनिल पाटिल के ट्वीट को टैग करते हुये ट्वीट किया, जिसमें कहा गया कि वह (पाटिल) एनसीपी का हिस्सा बने रहेंगे और उन्होंने शरद पवार के नेतृत्व में विश्वास व्यक्त किया। पाटिल ने ट्वीट में कहा कि वह राजभवन गए थे क्योंकि अजित पवार विधायक दल के नेता थे। पाटिल ने ट्वीट में कहा कि मुझे इस बारे में जानकारी नहीं थी कि राजभवन में क्या होने वाला है। मैं शरद पवार के साथ हूं। मलिक ने कहा कि पार्टी ने दरोडा और बाबा साहेब पाटिल के दो अलग-अलग वीडियो जारी किए हैं, जिसमें उन्हें यह कहते हुए देखा गया है कि वे एनसीपी के साथ हैं। एनसीपी प्रवक्ता ने कहा कि झिरवाल और नितिन पवार से संपर्क किये जाने का भी प्रयास चल रहा है। सभी आज शाम तक पार्टी के साथ वापस आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि अजित पवार को भी पार्टी में लौट आने के लिए समझाने की कोशिश की जा रही हैं। मलिक ने कहा कि अगर वह अपनी गलती स्वीकार कर लेते हैं तो यह उनके लिए बेहतर होगा। हम उन्हें अकेले नहीं छोडऩा चाहते हैं। इससे पहले शनिवार को, दौलत दरोडा के परिवार ने पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई है। दरोडा शनिवार को शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए राजभवन पहुंचने के बाद से ही लापता हैं।

भाजपा सांसद ने की शरद पवार से मुलाकात

महाराष्ट्र के महत्वपूर्ण घटनाक्रम में, भाजपा सांसद संजय काकडे ने रविवार सुबह एनसीपी प्रमुख शरद पवार से उनके आवास पर मुलाकात की। उनके अलावा और एनसीपी नेता जयंत पाटिल, छगन भुजबल और बबन शिंदे भी पवार से मिले।15 मिनट तक चली बैठक के बाद, काकडे ने कहा कि वह अपने निजी काम के लिए पवार से मिलने आये थे। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और पार्टी के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण ने भी शरद पवार से मुलाकात की। बाद में, चव्हाण ने संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना मिलकर सरकार बनाएंगी क्योंकि उनके पास संख्या बल है। उन्होंने कहा कि राकांपा के सभी गैरहाजिर विधायक जल्द ही पार्टी में लौट आएंगे। कांग्रेस के सभी विधायक एकजुट हैं। एनसीपी नेता अजित पवार तथा पार्टी के कुछ और विधायकों की मदद से महाराष्ट्र में शनिवार को भाजपा की सत्ता में वापसी के बाद अनिल पाटिल और दौलत दरोडा सहित राकांपा के कुछ विधायक लापता हो गए थे। सूत्रों के अनुसार, शरद पवार के पोते रोहित पवार समेत 45 से अधिक एनसीपी विधायकों को खरीद-फरोख्त से बचाने के लिए उपनगर के एक रिजॉर्ट में भेजा गया है।

शरद पवारउद्धव ठाकरे ने की मुलाकात

एनसीपी प्रमुख शरद पवार और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने रविवार को उपनगर के उस रिजॉर्ट में मुलाकात की जहां एनसीपी विधायक ठहरे हुए हैं। उन्होंने बताया कि शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की उनके विधायकों को एकजुट रखने में मदद कर रही है। शिवसेना के मजदूर संघों की शहर के कई शीर्ष होटलों में मजबूत मौजूदगी है। एनसीपी विधायकों को शनिवार देर रात पवई इलाके के द रिनेसां होटल में ले जाया गया है। इस बीच, राज भवन में फडणवीस और पवार के शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद रहे एनसीपी विधायक माणिकराव कोकाटे उसी समय उपनगर के होटल में लौट आए जब शरद पवार रविवार को वहां पहुंचे थे।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.