Press "Enter" to skip to content

ब्रिटेन में मिला नए किस्म का कोरोना वायरस, भारत ने उड़ानें रोकी

नई दिल्ली। ब्रिटेन में नए किस्म के कोरोना वायरस के पता चलने के बाद भारत समेत पूरी दुनिया फिर से अलर्ट मोड में आ गई है। भारत सरकार ने ब्रिटेन समेत कई देशों से जाने-आने वाली सभी हवाई उड़ानें फिलहाल के लिए रद्द कर दी है। इसके साथ ही विशेषज्ञ यह पता करने का प्रयास कर रहे हैं कि कहीं इस नए किस्म के वायरस से संक्रमित कोई व्यक्ति हाल-फिलहाल में ब्रिटेन से आया तो नहीं है। हालात अगर बिगड़े तो एक बार फिर लॉकडाउन की संभावना बढ़ सकती है।

ब्रिटेन में कोविड-19 का नए किस्म का वायरस 70 प्रतिशत ज्यादा घातक बताया जा रहा है। जैसा कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने खुद यह बात कही है। इस वायरस को VUI202012/01 नाम दिया गया है। इस वायरस का पता चलने के बाद दुनिया के तमाम देशों ने ब्रिटेन से आवागमन बंद करना शुरू कर दिया है। भारत ने भी सोमवार आधी रात से ब्रिटेन से आने और वहां जाने वाली सभी फ्लाइट बंद कर दी। इस बीच महाराष्ट्र में रात का कर्फ्यू लगा दिया गया है। राज्य के नगर महापालिका क्षेत्र में 22 दिसंबर से 5 जनवरी तक रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू प्रभावी रहेगा। दूसरे शहरों में भी सतर्कता बरतने को कहा गया है। वहीं भारत सरकार भी अलर्ट मोड में है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक इटली, ईरान, साउथ कोरिया और जापान से आने वाले यात्रियों को जो वीजा या ई-वीजा जारी किया गया था, उसे रद्द कर दिया गया है। 3 मार्च के बाद इन देशों के किसी भी नागरिक को भारत का वीजा नहीं देने का फैसला लिया गया है। इसके साथ ही भारतीय नागरिकों को भी इन देशों में जाने से मना किया जा रहा है।

ब्रिटेन में नए किस्म के कोरोना वायरस का पता ऐसे वक्त में चला है, जब पूरी दुनिया चीन से आए कोविड-19 के वैक्सीन लगाने की तैयारी कर रही थी। वहीं भारत में कोविड-19 के प्रकरण में भी तेजी से गिरावट देखी जाने लगी थी। उम्मीद की जा रही थी कि जनवरी के अंत तक भारत में कोरोना वैक्सीन लगना शुरू हो जाएगा, लेकिन नए हालात में विशेषज्ञ अब शायद नए किस्म के वायरस का अध्ययन करने के बाद ही टीकाकरण के काम को आगे बढ़ाएं। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तथा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर यूरोप से आने वाली फ्लाइट्स तत्काल बंद करने की मांग केंद्र सरकार से की है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जवाब में लिखा कि सरकार सतर्क है। वहीं कोरोना वायरस के म्यूटेशन केबारे में एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि अभी तक देश में इस तरह का कोई मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने सावधान करते हुए कहा कि हमें ध्यान रखने की जरूरत है। क्योंकि ब्रिटेन के जिन इलाकों में कोरोना वायरस का म्यूटेशन हुआ है, वहां कोरोना संक्रमण में तेजी से फैलाव देखने को मिल रहा है।

भारत में घट रहा है कोरोना का संक्रमण

भारत में कोरोना के केस में लगातार गिरावट देखी जा रही है। रविवार को बीते 24 घंटे में देश भर में कोरोना के कुल 24,337 नए मामले सामने आए। वहीं इस दौरान 333 मरीजों की मौत हुई। शनिवार को देश में कोरोना के 26,624 नए केस सामने आए थे और 341 मरीजों की मौत हुई थी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में कुल कोरोना एक्टिव मामलों के 40 फीसदी मरीज हैं। वहीं 33 राज्यों में से 20 हजार से कम एक्टिव केस हैं। देश में पिछले एक सप्ताह में ने केस में 17 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। इस दौरान भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने बताया कि भारत में रविवार तक कोरोना वायरस संक्रमण पता करने के लिए 16,20,98,329 नमूनों की जांच की जा चुकी थी। इनमें से 9,00,134 नमूने अकेले रविवार के थे।

More from ग्लोबल न्यूज़More posts in ग्लोबल न्यूज़ »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.