Press "Enter" to skip to content

भाजपा की केंद्रीय टीम में जल्द होंगी पदाधिकारियों की नियुक्तियां

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा शीघ्र ही अपने पदाधिकारियों की नई टीम की घोषणा कर सकते हैं। पार्टी के संसदीय बोर्ड में कई नये चेहरों को जगह मिल सकती हैं।नड्डा ने जनवरी महीने में पार्टी अध्यक्ष का कार्यभार संभाला था। सूत्रों का कहना है कि कोविड-19 महामारी के चलते राष्ट्रीय पदाधिकारियों की नई टीम की घोषणा में विलंब हो गया।पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि नई टीम में कुछ नये चेहरों को जगह मिल सकती है जबकि कुछ पुराने और अनुभवी नेता अपने पदों पर बरकरार रह सकते हैं।भाजपा में जब भी कोई नया अध्यक्ष नियुक्त होता है तो नई नियुक्तियां करना एक सामान्य परिपाटी है।अनंत कुमार, सुष्मा स्वराज, अरूण जेटली जैसे वरिष्ठ नेताओं के निधन और पार्टी के वरिष्ठ नेता रहे एम वेंकैया नायडू के उपराष्ट्रपति पद पर चयन के बाद संसदीय बोर्ड में कई जगह खाली हैं। सूत्रों के मुताबिक इन नेताओं से संसदीय बोर्ड में खाली हुई जगहों को तुरंत भरा जाएगा।संसदीय बोर्ड में सुषमा स्वराज एकमात्र महिला नेता थीं। ऐसे में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को उनके एक मजबूत विकल्प के रूप में देखा जा रहा है।संसदीय बोर्ड और पार्टी संगठन में अन्य प्रमुख पदों पर कौन-कौन नये चेहरे हो सकते हैं, इस संबंध में जब भाजपा नेताओं से बात की गई तो उन्होंने कुछ भी संकेत देने से इंकार कर दिया।ऐसी चर्चा है कि केंद्रीय मंत्रिपरिषद में फेरबदल हो सकता है। कुछ पदाधिकारियों को मंत्रिपरिषद में शामिल किया जा सकता है जबकि कुछ मंत्रियों को पार्टी संगठन में भेजा जा सकता है।पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने इस बात के संकेत दिए हैं कि नड्डा अपनी टीम में युवाओं को तरजीह दे सकते हैं। उनका कहना है कि अधिकांश जिलाध्यक्ष 50 साल की उम्र से नीचे के हैं। पहले की अपेक्षा, प्रदेश अध्यक्ष के पद पर नियुक्तियों को अगर आप देखेंगे तो पायेंगे कि अधिकांश युवा हैं।नड्डा को जनवरी माह में अमित शाह के उत्तराधिकारी के रूप में नियुक्त किया गया था। शाह के गृह मंत्री बनने के बाद नड्डा को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.