Press "Enter" to skip to content

‘नमामि गंगे’ की एक-तिहाई परियोजनायें पूरी: शेखावत

नई दिल्ली। जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने गुरुवार को बताया कि गंगा तथा उसकी सहायक नदियों की सफाई के लिए शुरू किये गये ‘नमामि गंगे’ कार्यक्रम के तहत अब तक मंजूर परियोजनाओं में एक-तिहाई से ज्यादा पूरी हो चुकी हैं।

शेखावत ने लोकसभा में एक पूरक प्रश्न के उत्तर में बताया कि ‘नमामि गंगे’ के तहत केंद्र सरकार ने अब तक 305 परियोजनायें मंजूर की हैं। उनमें 109 परियोजनायें पूरी भी हो चुकी हैं। यह पूछे जाने पर कि गंगा कब तक निर्मल हो जायेगी, उन्होंने कहा ‘‘गंगा की सफाई की समय सीमा एक यक्ष प्रश्न है। यह सदैव बना रहने वाला प्रश्न है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आँकड़ों के अनुसार, वर्ष 2014 की तुलना में वर्ष 2019 में गंगा का पानी स्वच्छता के मानकों पर बेहतर हुआ है। इसमें घुले ऑक्सीजन की मात्रा ऊपर देवप्रयाग से लेकर नीचे पश्चिम बंगाल के बक्काली समुद्र तट तक तय मानकों से कहीं ज्यादा है। इसके अलावा ‘बायोकेमिकल ऑक्सीजन डिमांड’ और ‘फीकल कैलप्रोटैक्टीन’ की मात्रा भी मानक के अनुरूप है। उन्होंने बताया कि इन तीनों मानकों पर गंगा का पानी पाँच साल पहले की तुलना में बेहतर हुआ है। शेखावत ने कहा कि अब तक मंजूर 305 परियोजनाओं की अनुमानित लागत 28,613.75 करोड़ रुपये है। वर्ष 2014-15 से 31 अक्टूबर 2019 की अवधि के लिए 12,741.42 करोड़ आवंटित किये जा चुके हैं।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »
More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.