Press "Enter" to skip to content

जिस ट्रैक्टर की पूजा करते हैं किसान, उसमें विपक्ष ने लगाई आग: मोदी

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध में विपक्ष से लेकर किसान सड़क पर उतरा हुआ है। विपक्ष द्वारा इसे किसानों के लिए खतरनाक बताते हुए सरकार पर खेती का निजीकरण करने का आरोप लगाया जा रहा है। सरकार का कहना है कि ये कानून किसान के हित में है और इसकी मदद से अब किसान कहीं पर भी अपनी फसल बेच सकता है। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर ये बात दोहराई है कि इन कानूनों की मदद से कृषि क्षेत्र में बड़े सुधार किए हैं, जिसका फायदा किसानों को होगा। उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि विपक्ष ने उस उपकरण को आग लगाई, जिसकी किसान पूजा करते हैं। पीएम मोदी ने मंगलवार को नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत तैयार छह परियोजनाओं का ऑनलाइन लोकार्पण किया। इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अभी समाप्त हुए संसद सत्र में देश के किसानों, श्रमिकों और देश के स्वास्थ्य से जुड़े बड़े सुधार किए गए हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, इन सुधारों से देश का श्रमिक, नौजवान, महिलाएं और किसान सशक्त होगा। लेकिन आज देश देख रहा है कि कैसे कुछ लोग सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं। अब से कुछ दिन पूर्व देश ने अपने किसानों को अनेक बंधनों से मुक्त किया है। अब देश का किसान कहीं पर भी, किसी को भी अपनी उपज बेच सकता है। विपक्ष पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, आज जब केंद्र सरकार किसानों को उनके अधिकार दे रही है, तो भी ये लोग विरोध पर उतर आए हैं। ये लोग चाहते हैं कि किसान की गाड़ियां जब्त होती रहे, उनसे बिचौलिए मुनाफा कमाते रहे। उन्होंने कहा कि वर्षों तक ये लोग कहते रहें कि एमएसपी लागू करेंगे, लेकिन किया नहीं। एमएसपी लागू करने का काम स्वामीनाथन कमीशन की इच्छा के अनुसार हमारी ही सरकार ने किया। विरोध करने वाले किसानों को आजाद नहीं होने देना चाहते हैं, किसान जिनकी पूजा करता है उसे ही आग लगाई जा रही है। ऐसा करके ये लोग किसानों को अपमानित कर रहे हैं।

More from राजनीतिMore posts in राजनीति »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.