Press "Enter" to skip to content

पाक: वित्त मंत्री असद उमर ने कहा- दिवालियां होने की कगार पर है पाकिस्तान

इस्लामाबाद- वर्तमान समय में पाकिस्तान पर मूल ऋण का भार इतना अधिक हो चुका है कि वह अब दिवालिया होने की कगार पर है। यह जानकारी बुधवार को पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर ने दी है। उमर ने सोशल मीडिया के साथ देश की अर्थव्यवस्था से संबंधित सवाल के जवाब में कहा कि “आप इतने भारी ऋण के बोझ के साथ अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के पास जा रहे हैं। हमें भारी अंतर को भरना है।” साथ ही उमर ने ये बात भी स्वीकार की है कि देश में मंदी चल रही है और रोजगार की दर भी धीमी है।

जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार वित्त मंत्री ने कहा कि पहले की तरह महंगाई अभी दहाई अंक नहीं छू पाई है। पहले महंगाई ने समाज के हर तबके को समान रूप से प्रभावित किया। उन्होंने कहा कि महंगाई ने गरीबों पर अच्छा खासा असर डाला है, ये सही है लेकिन हमारे शासन में स्थिति थोड़ी अलग है। उच्च आय वर्ग की तुलना में गरीब पर महंगाई का असर अपेक्षाकृत कम है। वहीं एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने व्यापक आर्थिक चुनौतियों का हवाला देते हुए कहा है कि वित्त वर्ष 2018 में पाकिस्तान की वृद्धि दर 5.2 फीसदी से गिरकर 2019 में 3.9 फीसदी पर आने का अनुमान है। अगर पाकिस्तान के यही हालत रहे तो इस साल दस लाख लोग और बेरोजगार हो जाएंगे।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.