Press "Enter" to skip to content

गर्भवती महिलाओं को खूब भा रही प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना

Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मेरठ। सुरक्षित प्रसव के लिए सरकार द्वारा चलाया जा रही प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना पीएमएमवीवाई गर्भवती महिलाओं को खूब भा रही है। इसयोजना से जिले में 18657 महिलाओं को सीधा लाभ मिला है।  ऐसी महिलाओं के खाते में  5.5 हजार रूपये भेजे जा चुका हैं। सरकारी योजनाओं में काम करने वाले पुरुष या महिलाओं को इस योजना का लाभ नहीं मिलता है। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. राजकुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने पर प्रत्येक महिला के खाते में पोषण के लिए पांच हजार रुपये प्रदान किये जाते हैं। इस योजना में सभी आय वर्ग की गर्भवती महिलाओं को पात्र बनाया जाता है। जनपद में यह योजना 1 जनवरी 2017 से ही लागू है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के दो मुख्य उद्देश्य हैं पहला काम करने वाली महिलाओं की मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिए मुआवजा देना और महिलाओं को उचित आराम और पोषण को सुनिश्चित करना और दूसरा गर्भवतीमहिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार और नकदी प्रोत्साहन के माध्यम से अधीन पोषण के प्रभाव को कम करना है। उन्होंने बताया इस योजना के से मातृ मृत्यु दर एवं शिशु मृत्यु दर में कमी आई है।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा पूजा शर्मा  ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में पहली बार गर्भवती होने वाली महिला के खाते में कुल 5000 रुपये पहुंच रहे हैं। योजना के द्वारा पात्र गर्भवती महिलाओं को पहली किस्त में एक हजार रुपये गर्भ धारण के 150 दिनों के अंदर, दूसरी किस्त में 2000 रुपये 180 दिनों के अंदर व तीसरी किस्त में 2000 प्रसव के बाद व शिशु के प्रथम टीकाकरण चक्र पूरा होने पर मिलते हैं। उन्होंने बताया कि योजना में गर्भवती महिला का पंजीकरण जांच और संस्थागत प्रसव होने के बाद ही पूरी धनराशि मिलती है। इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए अपने नजदीक स्वास्थ्य केंद्र पर गर्भवती महिलाओं को अपना आधार व खाता नंबर देना होता है। जनपद में वर्ष 2018-19 में कुल 18657 हजार महिलाओं को इस योजना का लाभ दिया जा चुका है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
More from शहरनामाMore posts in शहरनामा »

Be First to Comment

    प्रातिक्रिया दे

    आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

    Mission News Theme by Compete Themes.