Press "Enter" to skip to content

संसदीय समित की केवीएस, एनवीएस, सीबीएसई, एनसीईआरटी में रिक्तियां भरने की सिफारिश

नई दिल्ली। संसद की एक समिति ने केंद्रीय विद्यालय संगठन, नवोदय विद्यालय समिति, सीबीएसई, एनसीईआरटी में काफी संख्या में पद रिक्त होने पर चिंता व्यक्त करते हुए इनको भरने के लिये एक विशेष समयबद्ध भर्ती अभियान चलाने की सिफारिश की है । संसद में इस सप्ताह पेश शिक्षा, बाल, महिला, युवा एवं खेल संबंधी स्थायी समिति की रिपोर्ट में यह सिफारिश है । समिति ने ध्यान दिलाया है कि केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) में कुल 13949 रिक्तियां हैं जिनमें से 5991 शिक्षकों की है । 31 दिसंबर 2020 तक शिक्षकों के रिक्त पदों में से 587 आर्थिक रूप से कमजोर श्रेणी के थे जबकि 1611 अन्य पिछड़ा वर्ग, 898 अनुसूचित जनजाति, 450 अनुसूचित जनजाति तथा 165 दिव्यांग श्रेणी के थे। इसी प्रकार से नवोदय विद्यालय समिति (एनवीएस) में 3407 रिक्तियां हैं जिनमें से 671 अन्य पिछड़ा वर्ग, 414 अनुसूचति जाति, 351 अनुसूचित जनजाति और 176 दिव्यांग श्रेणी की हैं। रिपोर्ट के अनुसार केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) में 929 रिक्तियां हैं जबकि राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) में 1644 रिक्तियां तथा राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी संस्थान (एनआईओएस) में 171 रिक्तियां हैं। समिति ने कहा है कि शिक्षकों की रिक्तियों से स्कूलों में शिक्षक विद्यार्थियों के अनुपात पर असर पड़ता है और इससे मौजूदा शिक्षकों पर अतिरिक्त बोझ पड़ता है। समिति ने अपनी रिपोर्ट में रिक्तियों की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए सिफारिश की है कि सभी रिक्तियों को भरने के लिये एक विशेष समयबद्ध भर्ती अभियान चलाया जाए ।

More from खबरMore posts in खबर »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.