Press "Enter" to skip to content

“हिन्दी दिवस” के अवसर पर श्रीराम कॉलेज में संगोष्ठी का आयोजन

मुज़फ्फरनगर: श्रीराम कॉलेज के शिक्षक शिक्षा संकाय एवं बेसिक साइंस संकाय द्वारा संयुक्त रूप से हिन्दी दिवस के अवसर पर संगोष्ठी एवं वाद विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसका शीर्षक ‘‘आधुनिक भारत में हिन्दी की प्रासंगिकता/ आवश्यकता ’’ रहा। संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में श्रीराम कॉलेज के निदेशक डा0 आदित्य गौतम एवं प्राचार्या डा0 प्रेरणा मित्तल रहे।

कार्यक्रम की शुरूआत मुख्य अतिथि व शिक्षकगणों ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्जवलित कर की। कार्यक्रम की मुख्य वक्ता डा0 प्रेरणा मित्तल ने बोलते हुए कहा कि आज के समय में हिन्दी की जो महत्ता है उसे स्वीकार करते हुये हमें अपने व्यवहार में हिन्दी भाषा का प्रयोग करना चाहिये। आगामी पीढी को हिन्दी एक धरोहर के रूप में स्थानांतरित करनी होगी तभी हिन्दी भाषा का पूर्ण विकास सम्भव होगा। हिन्दी के हजारो वर्षो के इतिहास एवं स्वतंत्रता के 73 वर्ष बाद भी हम पूर्ण रूप से हिन्दी को अंगीकृत नहीं कर पाये।

इस अवसर पर डा0 आदित्य गौतम निदेशक श्रीराम कॉलेज ने हिन्दी दिवस की शुभ कामनायें देते हुये जीवन में हिन्दी की महत्ता पर प्रकाश डाला। संगोष्ठी में शिक्षक वर्ग से डा0 पूजा तोमर, डा0 विनीत शर्मा, ऋषभ भारद्वाज, डा0 रीतु पुण्डीर, संदीप राठी मुख्य वक्ता रहे। इसके अतिरिक्त छात्र वर्ग में प्रकृति कुलश्रेष्ठ, रवि कान्त धीमान, शिवानी, लवी चौधरी, निगम, अमन, काजल शैली, कोमल, जैनब, हशीब अली आदि द्वारा अपने-अपने विचार प्रस्तुत किये गये।

संगोष्ठी को सफल बनाने में शिक्षक शिक्षा संकाय एवं बेसिक साइंस संकाय के सभी शिक्षको एवं छात्रां का पूर्ण सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन छात्रा प्रकृति कुलश्रेष्ठ एवं प्रवक्ता लक्ष्मी गौड ने किया। इस अवसर पर बेसिक साइंस संकाय के प्रवक्ता डा0 मनोज मित्तल, डा0 विनीत शर्मा, ऋषभ भारद्वाज, डा0 रीतु पुण्डीर, भावना सिंह, विवेक कुमार, तनीशा गर्ग, मेघा राठी तथा शिक्षक शिक्षा संकाय के प्रवक्ता भानू प्रताप वर्मा, जगमेहर गौतम, संदीप राठी, मन्दीप कुमार, आयशा प्रवीण, ऊषा वर्मा, आदि रहे।

More from शहरनामाMore posts in शहरनामा »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.