Press "Enter" to skip to content

संसद में विपक्ष के साथ बैठेगी शिवसेना:दोनों सदनों में आवंटित हुई विपक्ष में सीटें

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद पर बने गतिरोध के बाद भाजपा का साथ छोड़ने वाली शिवसेना अब संसद में विपक्ष के साथ बैठेगी। संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने रविवार को कहा कि शिवसेना के मंत्री के केंद्र सरकार से इस्तीफे तथा महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए उसकी कांग्रेस और एनसीपी से चल रही बातचीत के बीच पार्टी को संसद के दोनों सदनों में विपक्ष की ओर सीटें आवंटित की जा रही हैं।

केंद्रीय मंत्रिपरिषद में शिवसेना कोटे से एक मात्र मंत्री अरविंद सावंत ने बीते सोमवार को अपना इस्तीफा सौंप दिया था। पार्टी ने शनिवार को कहा कि वह संसद के शीतकालीन सत्र की पूर्वसंध्या पर राजग के घटक दलों की बैठक में शामिल नहीं होगी। जोशी ने सर्वदलीय बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि शिवसेना के मंत्री ने एनडीए सरकार से इस्तीफा दे दिया है। वे आज एनडीए की बैठक में भाग नहीं ले रहे। वे कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन पर बातचीत कर रहे हैं। इसलिए, स्वाभाविक है कि उन्हें दोनों सदनों में विपक्ष की ओर सीटें आवंटित की जाएंगी।

सूत्रों के अनुसार राज्यसभा में शिवसेना के तीनों सदस्यों को विपक्ष की ओर सीटें आवंटित की गयी हैं, वहीं लोकसभा में भी ऐसा ही किया जाएगा। शिवसेना और भाजपा के बीच दशकों पुराने गठबंधन में महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद की साझेदारी पर तकरार को लेकर दरार आ गयी है। आजाद ने साथ ही जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की भी शीतकालीन सत्र में भाग लेने की वकालत की। उन्होंने कहा कि पिछली मिसालें ऐसी हैं कि सांसदों को संसद के सत्रों में शामिल होने की अनुमति दी गई है, भले ही उनके मामलों की सुनवाई की जा रही हो। इसलिए, पी चिदंबरम को भी शीतकालीन सत्र में भाग लेने की अनुमति दी जानी चाहिए। रतलब है कि संसद का शीतकालीन सत्र सोमवार को शुरू हो रहा है। प्रल्हाद जोशी द्वारा बुलाई गई इस बैठक में भाग लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस सांसद गुलाम नबी आजाद समेत कई दलों के नेता पहुंचे थे।

More from देश प्रदेशMore posts in देश प्रदेश »

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.