Press "Enter" to skip to content

ग्रामीण क्षेत्रों में सेवाओं को बेहतर बनाए दूरसंचार कंपनियां: केंद्र

नई दिल्ली। दूरसंचार सचिव अंशु प्रकाश ने कहा कि उद्योग को ग्रामीण इलाकों में कनेक्टिविटी बेहतर करने की चुनौतियों से पार पाना होगा। इस क्षेत्र में ‘डेटा खपत’को लेकर अच्छी संभावनाएं हैं। दूरसंचार सचिव प्रकाश ने कहा कि दूरसंचार सेवाएं एक मूलभूत जरूरत हैं और अनिवार्य सेवाओं की सूची में शामिल हो गई हैं। यहां तक पहुंचने में उद्योग ने एक लंबा फासला तय किया है। लेकिन आगे का रास्ता अभी भी चुनौतियों से भरा हुआ है। यह अधिक पूंजी निवेश वाला क्षेत्र है जहां लगातार निवेश की जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि उद्योग को वायरलाइन संचार और ब्रॉडबैंड का बड़ा जाल बिछाने के लिए अभियान चलाना होगा। ताकि मोबाइल टावरों की क्षमता और घरों तक फाइबर से ब्रॉडबैंड पहुंचाने में मदद मिल सके। प्रकाश ने कंपनियों से इस दिशा में काम करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि भारत को 5जी प्रौद्योगिकी के लिए तैयार होने और उसमें निवेश करने की जरूरत है। 5जी सेवाओं का लाभ स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, आपदा प्रबंधन, उद्योग और वाणिज्य जैसे विभिन्न क्षेत्रों तक पहुंचाने के लिए इस क्षेत्र में तमाम अवसर हैं। उन्होंने कहा कि मोबाइल फोन लोगों के जीवन का हिस्सा बन चुके हैं। इसने घर पर लगने वाले टेलीफोन का विकल्प पेश किया है। मोबाइल फोन ई-शासन, ई-वाणिज्य और कई मूल्य वर्द्धित सेवाओं की रीढ़ बन रही हैं। प्रकाश ने कहा कि दूरसंचार उद्योग के पास खुद पर गर्व करने की पर्याप्त वजह हैं लेकिन भविष्य चुनौतियों से भरा है। उन्होंने कहा कि यह एक पूंजी लगाने वाला क्षेत्र है और इसमें लगातार निवेश की जरूरत है। साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में सेवाएं बेहतर करने की जरूरत है। इस क्षेत्र में डेटा खपत की बहुत संभावनाएं हैं।

Be First to Comment

Leave a Reply

Mission News Theme by Compete Themes.